DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल में बनाई गई थी पैरोकार की हत्या की योजना

नैथला मोड़ पर दोहरे हत्याकांड के पैरोकार की हत्या के मामले में पुलिस ने दो शार्प शूटरों को गिरफ्तार कर हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। बताया गया कि भाई की हत्या के मामले में समझौता न करने पर पैरोकार की हत्या की योजना दो लाख रुपये सुपारी देकर जेल में ही बना ली गई थी। जिसे आरोपियों ने बाहर निकलते ही अंजाम दे दिया।

मंगलवार को एसपी जयप्रकाश ने प्रैस वार्ता के दौरान बताया कि बीती 16 मई को भाई की हत्या की पैरोकारी कर रहे फैजपुर निनाना निवासी किसान सतेन्द्र की तारीख पर कोर्ट से लौटते वक्त बाइकसवार अज्ञात बदमाशों ने गालिया बरसा कर हत्या कर दी थी। मामले को लेकर मृतक के बेटे दीपक कुमार ने बिहारीपुर गांव निवासी रनवीर पुत्र जिले सिंह, ब्रह्म सिंह पुत्र जिले सिंह व प्रियव्रत पुत्र सतवीर समेत पांच को नामजद कराते हुए मुकदमा कायम कराया था।

मामले को लेकर पुलिस तभी से ही जांच पड़ताल में जुटी हुई थी। एसपी ने बताया कि विवेचना के दौरान साक्ष्यों के आधार पर तीन शूटर अजय पुत्र हरवीर निवासी लोयन, सुनील पुत्र सुरेन्द्र तथा पिंटू पुत्र भोपाल निवासी मलकपुर को खेड़की मोड़ से गिरफ्तार कर लिया है।

बताया गया कि 19 जून 2015 को मृतक सतेन्द्र के भाई विनोद पुत्र रघुवीर व उसके दोस्त विनोद की बिहारीपुर गांव में सरे बाजार गालियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी, जिसकी पैरोकारी मृतक कर रहा था। मुकदमें में फैसला न करने पर आरोपी प्रियव्रत ने पिंटू, अजय व सुनील को दो लाख की सुपारी तय पर उसकी हत्या की योजना बनाई तथा बाहर निकलते ही वारदात को अंजाम दे दिया।

जिसमें पुलिस ने अजय व सुनील को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी ने फरार चल रहे आरोपी पिंटू व प्रियव्रत को भी जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया है। वही पुलिस ने शूटर अजय की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त तमंचा व एक खोखा कारतूस भी बरामद कर लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prison was formed to kill the advocate