DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बागपत  ›  जिपं अध्यक्ष पद को लेकर रालोद-भाजपा में छिड़ी सियासी जंग
बागपत

जिपं अध्यक्ष पद को लेकर रालोद-भाजपा में छिड़ी सियासी जंग

हिन्दुस्तान टीम,बागपतPublished By: Newswrap
Sun, 13 Jun 2021 11:20 PM
जिपं अध्यक्ष पद को लेकर रालोद-भाजपा में छिड़ी सियासी जंग

बड़ौत। बागपत में जिला पंचायत अध्यक्ष पद को लेकर रालोद व भाजपा में सियासी जंग छिड़ गई है, जहां रालोद के पास आठ जिला पंचायत सदस्य है, जबकि भाजपा के पास पांच सदस्य है। दोनों दल अपना-अपना अध्यक्ष बनाने के लिए एडी-चोटी का जोर लगा रहे हैं।

बागपत में जिपं सदस्य की बीस सीटें है, जिनमें आठ सीटों पर रालोद विजयी हुआ था। चार सीटों पर सपा,चार सीटों पर भाजपा व बाकी छह सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी विजयी हुए थे। सपा की एक जिपं सदस्य बबली ने सपा छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था। भाजपा ने उसे अपना जिपं अध्यक्ष पद का दावेदार नियुक्त किया है,जबकि रालोद की तरफ से ममता किशोर को दावेदार घोषित किया गया है। रालोद व सपा का गठबंधन होने के चलते रालोद के पास हाल में 11 जिपं सदस्य है, लेकिन रालोद नेताओं का दावा है कि उनके पास 12 जिपं सदस्य है। उधर, भाजपा के पास पांच जिपं सदस्य है,लेकिन वह भी अपना अध्यक्ष बनाने का दावा पेश कर रही है। पिछले कुछ दिनों से जिपं अध्यक्ष पद को लेकर बागपत में सरगर्मी तेज हो गई है। रालोद का कहना है कि सत्ता की हनक में भाजपा उनके पक्ष से जिपं सदस्यों पर कानूनी कार्रवाई कर रही है। इसके खिलाफ रालोद ने मोर्चा खोल दिया है। वह 17 जून को कलक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन करेंगे।

संबंधित खबरें