DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पवन हंस हेलीकॉप्टर से होगी कांवड़ यात्रा की निगरानी

आतंकी हमले के अलर्ट के चलते इस बार कांवड़ यात्रा की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। एटीएस और आरएफ की टीमें जहां मार्गों पर सुरक्षा की बागडोर संभालती नजर आएगी, वहीं पवन हंस हेलीकॉप्टर आसमान से कांवड़ यात्रा की निगरानी करेगा।

राज्यपाल ने हेलीकॉप्टर के खर्चे का धन आवंटित कर दिया है।हरिद्वार और गोमुख में कांवड़ यात्रा शुरू हो चुकी है। बागपत सहित मेरठ जोन के जिलों में पांच अगस्त से ये कांवड़िए गंगाजल लेकर वापस लौटने शुरू हो जाएंगे। बागपत के पुरा महादेव, मेरठ के ओघड़नाथ और गाजियाबाद के दुग्धेवरनाथ मंदिर में ये भगवान आशुतोष का जलाभिषेक करेंगे।

इस बार कांवड़ मेले पर आतंकी साया मंडराया हुआ है। खुफिया विभाग ने आतंकी हमले का अलर्ट भी जारी किया हुआ है। जिससे वेस्ट यूपी का पुलिस प्रशासन कांवड़ यात्रा को सकुशल संपन्न कराने के पुख्ता इंतजाम करने में जुटा हुआ है। मेरठ, बागपत और गाजियाबाद में तो आरएएफ और एटीएस की टीमें भी सुरक्षा के लिए लगाई गई हैं।

अब शासन ने आसमान से कांवड़ यात्रा पर निगरानी रखने के लिए हेलीकॉप्टर किराए पर लिया है। 24 जुलाई को पुलिस मुख्यालय से प्रदेश शासन को पत्र लिखा था। जिसमें पांच अगस्त से नौ अगस्त तक कांवड़ यात्रा की निगरानी के लिए हेलीकॉप्टर की डिमांड की गई थी।

जिस पर शासन ने अपनी स्वीकृती देते हुए हेलीकॉप्टर का खर्च नागरिक उड्डयन मंत्रालय को भेज दिया है। मेला प्रभारी सीओ खेकड़ा वंदना शर्मा ने बताया कि कांवड़ मेले की निगरानी के लिए पवन हंस लिमिटेड कंपनी का हेलीकॉप्टर किराए पर लिया गया है। राज्यपाल ने हेलीकॉप्टर के किराए के लिए 21 लाख 64 हजार रुपये का धन भी स्वीकृत कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Pawan Hans helicopter to supervise Kaunvad travel