ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बागपतदिव्यांग बच्चों को स्कूल ले जाने वाले अभिभावकों को मिलेगा भत्ता

दिव्यांग बच्चों को स्कूल ले जाने वाले अभिभावकों को मिलेगा भत्ता

दिव्यांग बच्चों को स्कूल ले जाने वाले अभिभावकों को मिलेगा भत्तादिव्यांग बच्चों को स्कूल ले जाने वाले अभिभावकों को मिलेगा भत्तादिव्यांग बच्चों को...

दिव्यांग बच्चों को स्कूल ले जाने वाले अभिभावकों को मिलेगा भत्ता
हिन्दुस्तान टीम,बागपतSun, 16 Jun 2024 11:40 PM
ऐप पर पढ़ें

दिव्यांग बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए शासन ने बड़ी पहल शुरू की है। अब बच्चों की शारीरिक कमी उनकी शिक्षा की राह में बाधा नहीं बनेगी। अभिभावक बच्चों को छोड़ने स्कूल जाएंगे। इसके बदले अभिभावकों को भत्ता भी दिया जाएगा। एस्कार्ट योजना के तहत दिव्यांग बच्चों के अभिभावकों को 6000 रुपये की धनराशि प्रतिवर्ष भत्ते के रूप में दी जाएगी। जिसे वह अपने बच्चे को स्कूल लाने ले जाने पर खर्च करेंगे।

दिव्यांग बच्चों को शिक्षित करने के लिए शासन लगातार प्रयास कर रहा है। ऐसे बच्चों के लिए समेकित शिक्षा अभियान चलाया जा रहा है। इस योजना के तहत अभी तक बच्चों को ट्राई साइकिल या अन्य उपकरण उपलब्ध कराए जाते हैं, जिससे वे स्कूल आ जा सकें। वहीं, जिले में ऐसे कई बच्चे हैं जो स्वयं उपकरणों के सहारे स्कूल आ-जा नहीं सकते। उनको स्कूल आने जाने के लिए किसी न किसी सहारे की आवश्यकता पड़ती है। बच्चों को उनके अभिभावकों को विद्यालय छोडने जाना पड़ता है। ऐसे में गरीब परिवारों पर बच्चों को स्कूल पहुंचाने का अतिरिक्त भार आ जाता है। शासन ने दिव्यांग बच्चों का भार उठाने का निर्णय लिया है। अब सरकार की ओर से उनको प्रतिवर्ष भत्ता दिया जाएगा। एस्कार्ट योजना लागू की गई है। इस योजना के तहत अभिभावकों को साल में 6000 रुपये भत्ते के रूप में मिलेंगे। जिससे वे अपने बच्चों को आसानी से स्कूल पहुंचा सके।

----------

60 प्रतिशत से ऊपर उपस्थिति पर मिलेगा भत्ता

बच्चों के चयन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जिनकी जांच के लिए समिति गठित की गई है। समिति दिव्यांग बच्चों की सूची का परीक्षण कर पात्र बच्चों को एस्कॉर्ट अलाउंस प्रदान करने पर मुहर लगाएगी। एस्कॉर्ट भत्ता का भुगतान प्रतिमाह उपस्थिति के आधार पर किया जाएगा। 60 प्रतिशत उपस्थिति से कम होने पर भत्ता नहीं दिया जाएगा।

--------

ऐसे मिलेगा भत्ता

इस योजना के तहत 600 रुपये प्रतिमाह के हिसाब से दस माह का भत्ता खाते में भेजा जाएगा। 70 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाले बच्चे योजना के लिए पात्र माने जाएंगे। वहीं 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांगता वाली बालिकाओं को 200 रुपये देने का प्रावधान है।

---------

ये बच्चें होंगे लाभान्वित

नेत्रहीन, बौद्धिक दिव्यांग, सेरेब्रल पाल्सी एवं जापानी इंसेफलाइटिस से प्रभावित बच्चे खुद विद्यालय नहीं जा पाते हैं। साथ ही उन्हें किसी साधन की आवश्यकता होती है। साधन न होने की स्थिति में वह शिक्षा से दूर ही रहते हैं। उनका चयन किया जाएगा, ताकि वह योजना से लाभान्वित हो सकें।

--------

कोट-

दिव्यांग बच्चों को शिक्षित करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। बच्चों को एस्कार्ट योजना से लाभांवित किया जाएगा। ताकि, अभिभावक इन बच्चों को स्कूल तक ला सकें। इसको लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। बच्चों को चिंहित किया जाएगा।

आकांक्षा रावत, बीएसए बागपत

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।