Thursday, January 27, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बागपतमनरेगा: खाली बैठे जॉब कार्ड धारक, 60 फीसदी लक्ष्य अधूरा

मनरेगा: खाली बैठे जॉब कार्ड धारक, 60 फीसदी लक्ष्य अधूरा

हिन्दुस्तान टीम,बागपतNewswrap
Sun, 05 Dec 2021 10:00 PM
मनरेगा: खाली बैठे जॉब कार्ड धारक, 60 फीसदी लक्ष्य अधूरा

जिले में मनरेगा के तहत जॉब कार्ड धारक श्रमिकों को अभी तक रोजगार मुहैया नहीं हो पाया है। जिसमें 244 ग्राम पंचायतों में से सिर्फ 130 ग्राम पंचायतों में ही मनरेगा कार्य चल रहा है तो वहीं अभी भी वार्षिक लक्ष्य से 60 फीसदी पीछे चल रहे है। जिसमें 94619 मानव दिवस के सापेक्ष सिर्फ 37442 मानव दिवस ही सृजित किये जा सके है, जिससे जॉबकार्ड धारक खाली बैठे हुए है।

बागपत जनपद में छह ब्लाकों की 244 ग्राम पंचायतों में विभिन्न विभागों की तरफ से मनरेगा योजना के तहत जॉब कार्ड धारकों को रोजगार मुहैया कराने के लिए शासन पूरी तरह गंभीर है। जिसमें जिलेभर में रहने वाले 33 हजार 663 जॉबकार्ड धारक परिवार पंजीकृत है। जिसमें जॉबकार्ड धारक श्रमिकों को एक साल में 100 दिन कार्य करने केआदेश शासन ने जारी कर रखे, लेकिन जनपद स्तर से लेकर ग्राम पंचायत स्तर तक मनरेगा योजना से जॉबकार्ड धारकों को रोजगार मुहैया कराने में लापरवाही बरती जा रही है। जिसके चलते शासन ने विगत वर्ष 2021-22 में मनरेगा से 94619 मानव दिवस सृजित कराने का लक्ष्य जारी किया था, लेकिन दिसंबर माह शुरू हो गया, अभी तक मनरेगा की गति ठीक नहीं हो पाई। जिसमें लक्ष्य से सिर्फ 40 फीसदी यानी 37442 मानव दिवस ही सृजित किये जा सके है। जिसके चलते मनरेगा का लक्ष्य अभी 60 फीसदी पिछड़ा हुआ है।

कोट-

मनरेगा महत्वपूर्ण योजना है, जिसमें जॉबकार्ड धारकों को रोजगार मुहैया कराया जाता है। जिसके संचालन में लापरवाही नहीं बरती जाएगी। गत दिवस बैठक में मनरेगा के

कनवर्जनस विभाग जिला पंचायत, सिंचाई विभाग, भूमि संरक्षण विभाग को लक्ष्य पूर्ण करने के कड़े निर्देश जारी किए गए है।

रंजीत सिंह, सीडीओ बागपत।

epaper

संबंधित खबरें