DA Image
19 सितम्बर, 2020|11:14|IST

अगली स्टोरी

इरफान हत्याकांड: हत्यारोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही पुलिस

इरफान हत्याकांड: हत्यारोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही पुलिस

छपरौली क्षेत्र के रठौडा गांव में एक युवक की चार लोगों ने बेरहमी से पिटाई कर दी और उसे मृत समझकर फरार हो गए। पुलिस ने इस मामले आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई भी कर दी। बावजूद इसके युवक की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। लेकिन इसके बाद पुलिस इस मामले में कार्रवाई नहीं कर रही है और न मामले में हत्या के मामले तरमीम किया जा रहा है।

इससे आक्रोशित परिजन सोमवार को एसपी कार्यालय पर पहुंचे और एएसपी का प्रार्थना पत्र देकर इस मामले में किसी दूसरे विवेचक से जांच कराकर कार्रवाई करने की मांग की। रठौडा निवासी इरशान पुत्र नसीबूद्दीन ने एएसपी को दिए पत्र में बताया कि गत 3 जुलाई की रात्रि उसके भाई इरफान में गाड़ी ठीक कराने के बहाने कुछ लोग बुलाकर ले गए था।

बताया कि आरोपियों ने उसके भाई की बेरहमी से पिटाई की और उसे मृत समझकर मौके पर छोड़कर फरार हो गए। इस मामले में उसने गांव के प्रवेज व शमी समेत दो अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी थी। जिस पर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज और वर्तमान में आरोपी जेल से बाहर आ गए हैं। इस दौरान गत 25 अगस्त को उसके भाई की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। इसकी जानकारी उसने थाना पुलिस को भी दी। बताया कि इसके बाद भी इस मामले में थाना पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। जबकि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं में मामला दर्ज होना चाहिए था।

उसका आरोप है कि कार्रवाई न होने से आरोपी भी बेखौफ हैं और उन्हें फै सला न करने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है। जिससे पीड़ित परिवार काफी सहमा हुआ है। पीड़ितों ने मामले की जांच किसी अन्य विवेचक से कराने तथा आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। एएसपी ने पीड़ितों को कार्रवाई का आश्वासन दिया है। इस दौरान जमशेद, भूरा, बबला, इंतजार, हाकिम, सईद, सलमू, शहजाद, अख्तरी व अजलीमा आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Irfan massacre Police not taking action against murderers