ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बागपतमांसाहार छोड़ो, शाकाहार अपनाओ: मुनि समत्व सागर

मांसाहार छोड़ो, शाकाहार अपनाओ: मुनि समत्व सागर

शहर के कैनाल रोड स्थित शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर में प्रवचन सभा का आयोजन किया गया। जिसमे मुनि समत्व सागर,मुनि अनुपम सागर ने धार्मिक प्रवचन करते हुए...

मांसाहार छोड़ो, शाकाहार अपनाओ:  मुनि समत्व सागर
हिन्दुस्तान टीम,बागपतMon, 12 Feb 2024 12:10 AM
ऐप पर पढ़ें

शहर के कैनाल रोड स्थित शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर में प्रवचन सभा का आयोजन किया गया। जिसमे मुनि समत्व सागर,मुनि अनुपम सागर ने धार्मिक प्रवचन करते हुए कहा कि जैन एक जाति न होकर एक सिद्धांत है। सभा में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

जैन मुनि ने कहा कि पूरे विश्व में जैन धर्म की एक अलग पहचान है,जिसका कारण जैन धर्म के सिद्धांत है। जैन धर्म एक बहुत ही वैज्ञानिक धर्म है। भगवान महावीर ने जो संदेश दिए हैं, पूरा विश्व उन्हें स्वीकार कर रहा है। जियो और जीने दो के सिद्धांत पर रहना चाहिए। हमें कोई हक नहीं है कि हम किसी निरीह प्राणी का वध करें,और उसके मांस का सेवन करें। प्रकृति ने हमें खाने के लिए फल सब्जियां आदि अनमोल खजाना दिया है। लेकिन उसके बावजूद हमने अपने पेट को एक कब्रिस्तान बना लिया है। इसमें बस अनाप-शनाप का सामान डालते जा रहे हैं। जो व्यक्ति शाकाहार अपनाते हैं वह मांसाहारियों की तुलना में कमजोर नहीं होते हैं। सभा का संचालन एड विनोद जैन और डॉक्टर श्रेयांस जैन ने किया। वरदान जैन, सुरेंद्र जैन, अनिल जैन, शरद जैन, नवीन बब्बल, वरदान जैन,विवेक जैन,पीयूष जैन,संकल्प जैन,सौरभ जैन, रोहित जैन, सुनील जैन आदि रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें