DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बागपत › शैक्षिक गुणवत्ता में फैल हुईं कस्तूरबा विद्यालय की शिक्षिकाएं
हापुड़

शैक्षिक गुणवत्ता में फैल हुईं कस्तूरबा विद्यालय की शिक्षिकाएं

हिन्दुस्तान टीम,हापुड़Published By: Newswrap
Wed, 06 Sep 2017 01:00 AM
शैक्षिक गुणवत्ता में फैल हुईं कस्तूरबा विद्यालय की शिक्षिकाएं

कस्तूरबा गांधी विद्यालय की छात्राओं की शैक्षिक गुणवत्ता सुधारने के लिए जिला प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। विद्यालय के परीक्षा परिणाम में छात्राओं को ई-ग्रेड देने पर सीडीओ ने सख्त रुख अपनाते हुए 10 शिक्षिकाओं से स्पष्टीकरण मांगा है। जवाब से संतुष्ट न होने पर अनुबंध समाप्त की भी चेतावनी दी गई है। सीडीओ ने बताया कि कस्तूरबा गांधी विद्यालय के शैक्षणिक कार्मिकों की वार्षिक आख्या नए अनुबंध कराने हेतु मांगी गई थी। शैक्षिक गुणवत्ता प्रगति विवरण/वार्षिक परीक्षा परिणाम सहित मूल्यांकन आख्या जब देखी गई तो उसमें कुछ छात्राओं को ई ग्रेड दिया गया था। इससे प्रतीत हो रहा है कि शिक्षिकाओं ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की तरफ कम ध्यान दिया है। हापुड़ के कस्तूरबा विद्यालय की पूजा शर्मा, अठसैनी के विद्यालय की राधा शर्मा, ममता शर्मा, ममता भदौरिया, मुकीमपुर पिलखुवा के विद्यालय की रश्मि यादव, अंजना त्यागी, रचना देवी, रिजवाना अंजुम तथा धौलाना के विद्यालय की सीमा शर्मा से स्पष्टीकरण मांगा गया है। संबंधित वार्डन उपरोक्त शिक्षिकाओं का स्पष्टीकरण तीन दिन के अंदर प्रस्तुत करें, कि क्यों न संबंधित शिक्षिका का शैक्षिक परीक्षा परिणाम संतोषजनक न होने के कारण सेवा अनुबंध समाप्त कर दिया जाए।

संबंधित खबरें