Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बागपत आसमान से बरसी आग, जनजीवन बेहाल

आसमान से बरसी आग, जनजीवन बेहाल

हिन्दुस्तान टीम,बागपतNewswrap
Thu, 08 Jul 2021 04:11 AM
 आसमान से बरसी आग, जनजीवन बेहाल

गर्मी का प्रकोप चरम पर है। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आसमान से आग बरस रही है। बुधवार को भी तपिश से कोई राहत नहीं मिली। तेज धूप के साथ गर्म हवाएं दिन भर चलीं, जिससे लोगों को झुलसा देने वाली गर्मी का सामना करना पड़ा। प्रचंड गर्मी के सामने जनजीवन बेहाल नजर आया। तापमान 43 डिग्री सेल्सियस रहा। सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। अघोषित बिजली कटौती ने कोढ़ में खाज का काम किया।

बुधवार को सुबह से ही तेज धूप निकल आई। जिससे वातावरण बेहद गर्म हो गया। गर्म हवाएं भी चल रही थीं। जिससे लोगों को झुलसा देने वाली गर्मी का सामना करना पड़ा। लोगों की हिम्मत घर से निकलने की नहीं पड़ रही थी। तमाम लोग लोग जरूरी काम भी छोड़कर घर से नहीं निकले। दस बजे तक सड़कें आग की तरह से तपने लगीं। दोपहर में हालत यह थी कि पंखे और कूलर की हवा में भी पसीना छूट रहा था। हर कोई गर्मी से बेहाल दिखाई दिया। भीषण गर्मी के चलते छात्राएं कहीं मुंह कपड़े लपेटकर बाजार से निकल रही थी तो कहीं पर छाता लेकर धूप से बच रही थी। उधर पशु -पक्षी भी असहनीय गर्मी से व्याकुल रहे। दोपहर के समय तो सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। जिलेभर के बाजार भी सुनसान हो गए। अघोषित बिजली कटौती ने तो कोढ़ में खाज का काम किया। बड़ागांव बिजली घर पर तो ग्रामीणों ने बिजली कटौती के विरोध में प्रदर्शन भी किया। ग्रामीणों का कहना है कि बिजली घर पर तैनात एसएसओ मनमानी कर रहे है। वे बिजली होते हुए भी ग्रामीणों को बिजली नहीं दे रहे हैं। बुधवार को जिले का अधिकतम तापमान 43 व न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रहा। कृषि वैज्ञानिक डा. संदीप चौधरी का कहना है कि दो दिन बाद लोगों को गर्मी से राहत मिल जाएगी।

epaper

संबंधित खबरें