DA Image
3 दिसंबर, 2020|6:57|IST

अगली स्टोरी

तीन गन्ना क्रय केंद्रों का एक केंद्र बनाने पर भड़के किसान

default image

जिवाना गुलियांन के शिव मंदिर में रविवार को गन्ना किसानों की एक बैठक आयोजित हुई जिसमें किसानों ने तीन गन्ना क्रय केंद्रों का एक स्थायी क्रय केंद्र बना दिये जाने पर कड़ा रोष जताया और समस्या के समाधान के लिये सोमवार को गन्ना मंत्री से मिलने का निर्णय लिया।

आयोजित बैठक में गन्ना किसानों ने मलकपुर चीनी मिल के अधिकारियों पर मनमानी करने का आरोप लगाते हुये कहा कि पूर्व में उनके गांव में तीन गन्ना क्रय केंद्र थे लेकिन इस वर्ष मिल के अधिकारियों ने मनमानी करते हुये बिना सूचना दिये तीनों गन्ना क्रय केंद्रों का मेरठ बड़ौत हाइवे पर एक स्थायी क्रय केंद्र स्थापित कर दिया है जो गलत है किसानों के हित में नही है। एक गन्ना क्रय केंद्र होने से किसानों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ेगा जैसे की गांव के सभी किसानों को भैंसा बुग्गी से करी 8 किलो मीटर तक गन्ना ले जाना, गांव के बीच से होकर जाना, मेरठ बड़ौत मार्ग पर जाम की समस्या को झेलना ओर रास्ते मे पड़ने वाले अन्य मिलों के क्रय केंद्रों से जुड़े किसानों से विवाद होने आदि अनेकों समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। किसानों ने मांग की है कि गन्ना क्रय केंद्र गत वर्षों की तरह उन्ही स्थानों पर स्थापित हो। बैठक में किसानों ने चेतावनी देते हुये कहा कि यदि गत वर्षों की तरह गन्ना क्रय केंद्र नही लगे तो किसान एक जुट होकर क्रय केंद्र पर न तो अपना गन्ना डालेंगे व न ही अन्य किसानों का डालने देंगे। समस्या के समाधान के लिये उन्होंने गन्ना मंत्री सुरेश राणा से मिलने का निर्णय लिया है। बैठक में विषयपाल सौलंकी, आदित्य सौलंकी, हरेंद्र सौलंकी, विपिन, ओमबीर, जगबीर सिंह, सुनील कुमार, राजन, संजय, महावीर सिंह आदि किसान मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers raging to build a center for three sugarcane purchasing centers