DA Image
27 नवंबर, 2020|11:36|IST

अगली स्टोरी

केन्द्र सरकार से की दो बच्चों का कानून समान रूप से लागू करने की मांग

default image

क्षेत्र के संजरपुर कैडवा गांव में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के तत्वावधान में जन जागरूकता अभियान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने बढ़ती जनसंख्या के दुष्परिणामों से आमजन को सचेत किया। केंद्र सरकार से दो बच्चों का कानून समान रूप से लागू करने की मांग की गई।

रविवार की दोपहर कैडवा गांव में जनसंख्या फाउंडेशन संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी ने स्थिति को विस्फोटक बताते हुए लोगों से जन आंदोलन द्वारा सरकारों पर दबाव बनाने पर जोर दिया ताकि दो बच्चों का कानून बनाने को सरकार मजबूर हो जाए। उन्होंने सरकार से मांग की कि कानून लागू होने के बाद अगर कोई तीसरा बच्चा पैदा करता है तो उससे सभी सरकारी सुविधाओं को वापस लिया जाए। मतदान के अधिकार से भी वंचित रखा जाए । संगठन की राष्ट्रीय सह संयोजक ममता सहगल ने बढ़ती जनसंख्या के कारण कम होते जा रहे प्राकृतिक संसाधनों को विस्तार से बता कर लोगों को आंदोलन के लिए प्रेरित किया। संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शैलेश तोमर ने बढ़ती जनसंख्या के कारण प्रकृति के अत्यंत दोहन पर गहरा दुख प्रकट करते हुए सरकार से मांग की कि वह जल्दी से जल्दी दो बच्चों का कानून लागू करें नहीं तो स्थिति बहुत भयावह हो जाएगी। संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गजेंद्र सिंह, नीलकंठ, मनुपाल बंसल, राकेश आर्य, जिलाध्यक्ष विवेक तोमर ,युवा विंग के प्रदेश अध्यक्ष नवीन प्रजापति आदि ने अपने विचार रखे ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता महावीर सिंह व संचालन कार्यक्रम के संयोजक अनिल कुमार कैडवा व योगेंद्र वैदिक ने किया ने किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नरेश प्रधान, रविंद्र प्रधान,बाबूराम प्रजापति, रामवीर सिंह, अमर पाल, डा. सत्येंद्र प्रजापति, अजीत सिंह,शेर सिंह गुर्जर, रणवीर सिंह, अमित तितरौदा आदि सैकड़ों लोग उपस्थित रहे ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Demand for the implementation of the law of two children equally from the central government