DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बागपत › बाली वध और सीता हरण लीला का हुआ मंचन
बागपत

बाली वध और सीता हरण लीला का हुआ मंचन

हिन्दुस्तान टीम,बागपतPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 11:30 PM
बाली वध और सीता हरण लीला का हुआ मंचन

जिलेभर में रामलीला मंचन में दर्शकों की भीड़ उमड़ रही है, जिसके चलते अमीनगर सराय के प्राचीन शिव मंदिर प्रांगण में चल रही रामलीला मंचन में बाली वध का मंचन किया गया। जिसके बाद सीता माता की तलाश शुरू कर दी गई। इसके अलावा रटौल कस्बे में सीताहरण की लीला देख दर्शक भावविभोर हो उठे।

अमीनगर सराय कस्बे के शिव मंदिर प्रांगण में श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी के सानिध्य में चल रही रामलीला मंचन में आठवें दिन राम हनुमान मिलन, बाली वध और हनुमान विभीषण मिलन की लीला का मंचन कलाकारों ने मनमोहक ढंग से किया गया। जिसमें माता सीता को खोजते हुए राम वन-वन भटक रहे थे तो दूसरी तरफ वानरराज भाइयों बाली और सुग्रीव के बीच युद्ध हुआ और श्रीराम ने बाली का वध कर दिया। इस दौरान अनिल गुप्ता, यज्ञदत्त शर्मा, नवीन गुप्ता, पुरुषोत्तम गर्ग, हरिशंकर प्रजापति, मुकेश शर्मा आदि मौजूद रहे। वहीं दूसरी रटौल कस्बे में सूपर्णखा नासिका छेदन से रामलीला मंचन की शुरुआत हुई। इसके बाद खरदूषण वध, सीता हरण का आकर्षक मंचन कर कलाकारों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। जहां सीता की तलाश में घूम रहे राम व लक्ष्मण सीता की खोज में किष्किंधा पर्वत पर मित्रता सुग्रीव से होती है। इस मौके पर संचालक मा. देवेंद्र अरोरा, बंटी गुप्ता, मनोज, ब्रजलाल गांधी , लीलू , मानसिंह ,प्रवीण ,संजय अरोरा , प्रमोद गुर्जर ,बाबु, पंडित कुश प्रशाद शास्त्री आदि लोग मौजूद रहे।

संबंधित खबरें