DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिला जेल में जहर खाकर कैदी व बंदी ने की खुदकशी

जिला जेल में जहर खाकर कैदी व बंदी ने की खुदकशी

बदायूं की जिला कारागार में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। मुरादाबाद जिले के ब्लाक प्रमुख की हत्यारोपी सुमित के जेल की दीवार फांदकर फरार होने का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ कि बुधवार की दोपहर जिला कारागार में हत्या के आरोप में सजा काट रहे कैदी व दहेज हत्या के आरोपी बंदी ने जहर खाकर जान दे दी।

जेल के भीतर कैदी व बंदी की मौत की जानकारी लगते ही हरकत में आया जेल प्रशासन आननफानन में दोनों को जिला अस्पताल ले गए जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी लगते ही दहेज हत्या के मामले में बंद बंदी के परिजनों ने जेल प्रशासन पर खाने में जहर देकर हत्या का आरोप लगाते हुए दिल्ली बदायूं हाईवे पर लालपुर पर जाम लगा दिया। वहीं जेल की बैरक में सुसाइड नोट मिला है। प्रशासन का मानना है कि सुसाइड नोट शाहरुख ने लिखा था। बुधवार की दोपहर करीब पौने एक बजे जिला जेल प्रशासन आननफानन में वाहन से बंदी और कैदी को जिला पुरुष अस्पताल लेकर आए। इस दौरान दोनों बेहोशी की हालत में थे और इमरजेंसी में ले जाने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद डाक्टरों ने शव को जिला पुरुष अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया। बाद में पता चला कि फैजगंज बेहटा थाना के गांव नूरनगर कौड़िया निवासी शाहरुख पुत्र उमर खान तथा शहर के हकीमगंज निवासी असलम पुत्र गुलाम नबी की जिला जेल में जहर खाने से मौत हो गई है। बैरक नंबर 12 में बंद शाहरुख होतेलाल की हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं, वहीं असलम पत्नी की दहेज हत्या के मामले में बंदी है। बुधवार दोपहर दोनों ने जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर जेल प्रशासन को जेल प्रहरियों ने सूचना दी। इसके बाद कारागार अधीक्षक व जेलर भागकर बैरक नंबर 12 में पहुंचे जहां दोनों अचेत पड़े थे, मुंह से झाग निकल रहा था। जेल प्रशासन ने आननफानन में दोनों को जिला अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी लगते ही एडीएम वित्त व सिटी मजिस्ट्रेट जिला अस्पताल पहुंचे जहां डाक्टरों व जेल की ओर से आई जानकारी अपने कब्जे में ली और फिर जेल पहुंचे, जहां जांच की। घटना के बाद शाम के समय डीएम व एसएसपी अशोक कुमार शर्मा जेल पहुंचे। जहां बैरक नंबर 12 में बंद अन्य बंदियों से घटना की जानकारी ली। इस बीच बैरक में मिले सुसाइड नोट को जिला प्रशासन ने अपने कब्जे में लेते हुए जांच के आदेश दिए। जेल में कैदी व बंदियों की जहर खाने से मौत हुई है। जेल में एक सुसाइड नोट मिला, जो शाहरुख का बताया जा रहा है। सुसाइड नोट जब्त कर उसकी जांच के आदेश दिए गए हैं। जेल में जहर कैसे आया और कहां से आया, इस बात की जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम के बाद पता चलेगा कि जहर कौन साथा। जेल में बंदियों की और सख्त जांच की जरूरत है, जिसके आदेश दिए गए हैं। इस घटना की रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है। जांच डीआईजी जेल कर रही हैं।दिनेश कुमार सिंह, डीएम

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two prisoners swallowed poison, died