Treatment given to 2227 patients 25 PF came out - 2227 मरीजों को उपचार, 25 को निकला फैल्सीपेरम DA Image
11 दिसंबर, 2019|2:10|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2227 मरीजों को उपचार, 25 को निकला फैल्सीपेरम

2227 मरीजों को उपचार, 25 को निकला फैल्सीपेरम

जिले में संक्रामक रोगों पर काबू पाने के लिए पूरा स्वास्थ्य विभाग जुट गया है। जिले में हो रही बुखार की मौत को लेकर विभाग गंभीर है और गांव-गांव जाकर उपचार दे रहा है।

जिससे अब लगभग बुखार के प्रकोप पर सफलता मिलती नजर आ रही है। टीमों ने जिले भर में कैंप लगाकर उपचार दिया है।शुक्रवार को सीएमओ डॉ. मंजीत सिंह के नेतृत्व में जिला स्तरीय गठित छह टीमों को तथा ब्लाक स्तरीय टीमों को गांव-गांव उपचार के लिए भेजा है। जिला संक्रामक रोग अधिकारी डॉ. अनिल शर्मा के नेतृत्व में टीमों ने गांव में कैंप लगाए और उपचार दिया है।

इधर 12 सितंबर को हुए भ्रमण की भी विभाग ने रिपोर्ट जारी की है। जिसमें 36 टीमों ने गांव में जाकर उपचार दिया है। जिले भर में टीमों ने 2,227 मरीजों को देखा है और उपचार भी दिया है, यह सभी बुखार के रोगी मिले हैं। इसमें 825 मरीजों की जांच के लिए स्लाइड भरी गई है। वहीं आरडीटी किट से 1269 मरीजों की जांच की गई है। जिसमें 168 लोगों में पीवी मलेरिया तथा 25 लोगों में फैल्सीपेरम निकला है।

इन मरीजों के लिए उपचार किट दी गई है और खान पान के साथ-साथ घर एवं बाहर साफ-सफाई के निर्देश दिए गए हैं। बतादें कि अब तक जिले में एक लाख दो हजार 78 लोगों का टीम उपचार कर चुकी हैं। जिसमें 77 हजार 337 लोगों की ब्लड स्लाइड बनाई जा चुकी हैं।

वहीं आरडीटी किट के द्वारा जिले में 66 हजार 161 लोगों की जांच की गई है। इसमें दस हजार 740 लोग पीवी मलेरिया के शिकार मिले हैं तो वहीं 1140 मरीजों में फैल्सीपेरम निकला है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग गंभीरता से कैंप लगा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Treatment given to 2227 patients 25 PF came out