DA Image
21 सितम्बर, 2020|11:31|IST

अगली स्टोरी

किसान को मनरेगा व कामगारों को श्रम विभाग से रोजगार

किसान को मनरेगा व कामगारों को श्रम विभाग से रोजगार

दिल्ली-हरियाणा और राजस्थान समेत दूसरे राज्यों से इस महामारी में आने वाले कामगारों, मजदूरों को घबराने की जरूरत नहीं हैं।

बाहर से जिले में अपने घरों में आने वाले हर कामगारों के हाथों को रोजगार दिया जाएगा। मनरेगा पंजीकृत करके कार्य कराएगा, निकायों के श्रमिकों को सन्ननिर्माण बोर्ड में पंजीकृत कर लाभ दिया जाएगा।जिले में 25 मार्च को लॉकडाउन लगने के बाद कोरोना महामारी स्थानीय कामगार, मजदूरों को बेरोजगार कर दिया था।

इसके बाद कोरोना महामारी के बीच दूसरे राज्यों एवं जिलों में काम करने वाले फंसे थे, वह भी धीरे-धीरे कर एक महीने में अपने-अपने घरों को वापस हो गए हैं। अभी भी दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान सहित कई राज्यों की सरकारें कामगार, एवं मजदूरों को भेज रही हैं।

सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन रोजगार देने के प्रयास में हैं। ऐसे सभी श्रमिकों का सर्वे कर सूची तैयार हो रही है, प्रशासन और राजस्व टीम सर्वे कर रही हैं। इनको मनरेगा से जॉबकार्ड दिया जाएगा और फिर काम दिया जाएगा। वहीं श्रम विभाग में भी पंजीकृत कर कामकाज का सहारा दिया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The farmer will get employment from the labor department MNREGA and workers