DA Image
26 जनवरी, 2020|11:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांव का विकास देखकर प्रधान की पीठ थपथपाई

गांव का विकास देखकर प्रधान की पीठ थपथपाई

1 / 3गांव में सरकारी योजनाओं को लागू कराने एवं एक-एक लाभार्थी तक लाभ पहुंचाने में प्रधान ने काफी मेहनत की, जिस पर डीएम ने ग्राम प्रधान पति शेर सिंह की पीठ थपथपाई...

गांव का विकास देखकर प्रधान की पीठ थपथपाई

2 / 3गांव में सरकारी योजनाओं को लागू कराने एवं एक-एक लाभार्थी तक लाभ पहुंचाने में प्रधान ने काफी मेहनत की, जिस पर डीएम ने ग्राम प्रधान पति शेर सिंह की पीठ थपथपाई...

गांव का विकास देखकर प्रधान की पीठ थपथपाई

3 / 3गांव में सरकारी योजनाओं को लागू कराने एवं एक-एक लाभार्थी तक लाभ पहुंचाने में प्रधान ने काफी मेहनत की, जिस पर डीएम ने ग्राम प्रधान पति शेर सिंह की पीठ थपथपाई...

PreviousNext

गांव में सरकारी योजनाओं को लागू कराने एवं एक-एक लाभार्थी तक लाभ पहुंचाने में प्रधान ने काफी मेहनत की, जिस पर डीएम ने ग्राम प्रधान पति शेर सिंह की पीठ थपथपाई है।

मगर सफाई कर्मचारी की लापरवाही देखकर डीएम नाराज हो गए और सफाई कर्मचारी को निलंबित करने का आदेश डीपीआरओ को दिया है।

गुरुवार को डीएम कुमार प्रशांत ने सीडीओ निशा अनंत के साथ हिन्दुस्तान के गोद लिए म्याऊं ब्लाक के गांव चंदी फाजिल नगला में विकास कार्यों का निरीक्षण किया। डीएम ने निर्देश दिए कि गांव के तालाब का सौंदर्यीकरण एवं पट्टा कराया जाए। उन्होंने स्वच्छ भारत के तहत निर्माण कराएं गए स्वच्छ शौचालयों एवं प्रधानमंत्री आवास का भी निरीक्षण किया।

उन्होंने पाया कि निर्माण कराए गए सभी शौचालय चालू अवस्था में हैं एवं इनका नियमित प्रयोग भी किया जा रहा है। डीएम ने ग्रामीणों से जाना कि अब कोई शौच के लिए खुले में तो नहीं जाता है तो ग्रामीणों ने कहा कि जब घर में शौचालय बन गया तो बाहर जाकर क्या करेंगे। डीएम ने इस पर प्रसन्नता व्यक्त की है। ग्रामीणों ने डीएम को बताया कि सफाई कर्मचारी रीना नियमित सफाई करने नहीं आती हैं।

फोन करने पर घर के अन्य सदस्य वार्ता करते हैं। डीएम ने डीपीआरओ को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए हैं। ग्रामीणों ने डीएम को बताया कि विद्युत विभाग द्वारा समय से बिजली का बिल प्राप्त नहीं होता है और जब प्राप्त होता है तो अंधाधुध धनराशि अंकित होती है। डीएम ने विद्युत विभाग को निर्देश दिए कि कैंप लगाकर उपभोक्ताओं के बिल संसोधित किए जाएं।

डीएम-सीडीओ ने इसके बाद प्राथमिक विद्यालय का भी निरीक्षण किया। डीएम ने बच्चों से स्वेटर वितरण के बारे में जाना तो बच्चों ने बताया कि स्वेटर वितरण हो चुके हैं। उन्होंने अंग्रेजी की किताब पढ़वाई तो बच्चे ठीक से नहीं पढ़ सके।

उन्होंने शिक्षकों को निर्देश दिए कि कमजोर बच्चों को अतिरिक्त कक्षाएं लगाई जाएं। इस मौके पर एसडीएम दातागंज कुंवर बहादुर सिंह, डीपीआरओ डॉ. सरनजीत सिंह कौर, जिला समाज कल्याण अधिकारी राम जनम एवं बीडीओ बीपी सिंह मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Seeing the development of the village DM Pradhan was patted