DA Image
21 अक्तूबर, 2020|6:47|IST

अगली स्टोरी

जिले में 73 फीसदी गेहूं खरीद संग बंद हुए क्रय केंद्र

जिले में 73 फीसदी गेहूं खरीद संग बंद हुए क्रय केंद्र

सरकार ने समर्थन मूल्य पर किसानों के गेहूं खरीद को क्रय केंद्र खोले थे जो अब बंद हो गए हैं।

गेहूं खरीद योजना के तहत जिले के किसानों का गेहूं खरीद गया है। सरकार ने समय पूरा होने पर क्रय केंद्र बंद कर दिए हैं मगर सरकार के लक्ष्य के अनुसार प्रशासन खरीद को पूरा नहीं करा पाया है। पिछले वर्षों की तरह इस बार भी गेहूं खरीद अधूरी रह गई है।

मंगलवार 30 जून को जिले में गेहूं खरीद बंद हो गया है। खरीद विभाग ने शासन के निर्देशों का पालन करते हुए मंगलवार को समय पूरा होने पर खरीद शाम पांच बजे तक का समय पूरा होने पर क्रय केंद्र बंद करा दिए हैं। भले ही मंगलवार तक क्रय केंद्रों को खोला गया था, लेकिन पिछले छह दिन से जिले के क्रय केंद्रों पर गेहूं नहीं आ रहा है।

बतादें कि 15 अप्रैल से जिले के 131 क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद शुरू की गई थी, खरीद का समय 15 जून को पूरा हो गया था, लेकिन प्रशासन खरीद पूरी नहीं कर पाया था शासन ने 30 जून तक समय बढ़ा दिया था। अब मंगलवार तक विभाग ने जिले के क्रय केंद्रों से 73 फीसदी खरीद कर ली है।

जिसमें जिले भर के केंद्र पर 89 हजार 37 एमटी खरीद करने के बाद क्रय केंदरों को बंद कर दिया है। अब जिले में गेहूं खरीद नहीं होगी। खास बात है कि जिले में समय बढ़ाने के बाद भी गेंहू खरीद का लक्ष्य पूरा नहीं हो सका है। शासन ने गेंहू खरीद का लक्ष्य 22 हजार 500 एमटी का दिया गया था, मगर प्रशासन पिछले वर्षों की तरह इस बार भी खरीद पिछड़ गई है।

649 लाख रुपए का भुगतान लटका

जिले में 15 अप्रैल से शुरू हुई गेहूं खरीद बंद हो गई है। गेहूं खरीद अब बंद हो चुकी है और भुगतान की रफ्तार प्रशासन की धीमी है। जिसकी वजह से जिला प्रशासन खरीद क्रय केंद्रों एवं एजेंसियों से गेहूं खरीद का छह करोड़ 49 लाख रुपए का भुगतान नहीं करा पाया है।

649 लाख रुपए का भुगतान लटका है जिसकी वजह से किसान परेशान हैं।

12 हजार क्विंटल गेहूं भंडारण को पड़ा

गेहूं खरीद का सिस्टम जिले में काफी धीमा है। सिस्टम की लापरवाही के चलते गेहूं का भंडारण तक नहीं हुआ है, अब गेहूं खरीद बंद हो गई है। मगर प्रशासन क्रय केंद्रों से गेहूं का उठान कराकर भंडारण को पूरा नहीं करा पाया है। खरीद विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अभी 12 हजार 500 क्विंटल गेहूं क्रय केंद्रों पर पड़ा है। जिसका गोदामों में भंडारण होना है।

सरकार से दिया गया समय पूरा हो गया है और खरीद को क्रय केंद्रों से बंद कर दिया है। जिले में क्रय केंद्रों पर 73 फीसदी खरीद हो गई है। भंडारण को कुछ गेहूं रह गया है वह भंडारण कराते हैं तथा बचा हुआ भुगतान कराते हैं। बाकी गेहूं खरीद की सभी व्यवस्थाएं पूरी हो जाएगी।

प्रकाश नारायण, डिप्टी आरएमओ

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Purchasing centers closed with 73 percent wheat procurement in the district