DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चंद्रगहण के चलते दोपहर में हुई गंगा महाआरती

चंद्रगहण के चलते दोपहर में हुई गंगा महाआरती

1 / 2गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गंगा में डुबकी लगाने के बाद हजारों श्रद्धालु गंगा महाआरती में शामिल...

चंद्रगहण के चलते दोपहर में हुई गंगा महाआरती

2 / 2गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गंगा में डुबकी लगाने के बाद हजारों श्रद्धालु गंगा महाआरती में शामिल...

PreviousNext

गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गंगा में डुबकी लगाने के बाद हजारों श्रद्धालु गंगा महाआरती में शामिल हुए। श्रद्धालुओं की भीड़ में महाआरती का नजारा मनमोहक रहा और श्रद्धालुओं ने गंगा मइया का गुणगान किया और आरती में शामिल होकर पूजा पाठ किया।

चंद्रग्रहण लगने के चलते मंगलवार को गंगा की महाआरती दोपहर ढाई बजे से शुरू हुई और सूतक लगने से पहले पूर्ण करा ली गई।मंगलवार को कछला के भागीरथ घाट पर रोजाना होने वाली नियमित गंगा महाआरती पंडितों द्वारा चंद्रग्रहण का सूतक लगने के चलते दोपहर ढाई बजे शुरू कराई गई।

जिसमें डीएम दिनेश कुमार सिंह एवं एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने भी भागीरथ घाट कछला जाकर गंगा के दर्शन किए एवं वहां आए श्रद्धालुओं से उनका हालचाल जाना। डीएम ने श्रद्धालुओं के बीच इस दिन की विशेषताएं एवं स्नान पर चर्चा की। इसके बाद डीएम एसएसपी गंगा महाआरती में शामिल हुए।

मंगलवार की गंगा महाआरती बिल्सी एसडीएम लाल बहादुर सिंह पत्नी व बच्चों के साथ मुख्य यजमान रहे। इसके बाद भंडारा में पहले गंगा मइया को भोग लगाने के बाद भक्तों व यहां पहुंचे श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया।

महाआरती में एडीएम प्रशासन रामनिवास शर्मा, एसडीएम सदर पारसनाथ, एसडीएम बिसौली किशोर गुप्ता, आचार्य संजीव रूप, ओमबाबू सक्सेना, प्रदीप गोयल, संजीव कुमार, महेश चंद्र वार्ष्णेय, कुशलपाल सिंह, राजेश कुमार शर्मा, विनोद कुमार, श्यामवीर सिंह, राकेश कुमार, हेमराम, राजकुमार, रामपाल सिंह, श्रीपाल सिंह, राहुल कुमार मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Praise of Ganga Mayya at Guru Purnima in Ganga Maharaati