DA Image
17 जनवरी, 2021|5:45|IST

अगली स्टोरी

क्रासिंग और स्टेट हाईवे क्रास करने को बनेंगे ओवरब्रिज

क्रासिंग और स्टेट हाईवे क्रास करने को बनेंगे ओवरब्रिज

गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए भूमि अधिग्रहण होने लगा है, वहीं राजस्व टीम को पूरा डाटा तैयार करना पड़ रहा है। अब रेलवे एवं पीडब्ल्यूडी द्वारा ओवरब्रिज बनाने के लिए रिपोर्ट तैयार की जाने लगी है। यूपीडा गंगा एक्सप्रेस-वे को यह रिपोर्ट भेजी जायेगी, जिसमें जानकारी देनी है कितनी जगह स्टेट एवं मुख्य हाईवे निकल रहा है, उसी के हिसाब से यूपीडा अपना बजट तय करेगा।

जिले में गंगा एक्सप्रेस-वे 92 किलोमीटर लंबा निकल रहा है। जिले की चार तहसील सदर, बिल्सी, बिसौली, दातागंज से निकल रहा है। जिसके लिये 1109 हेक्टयर भूमि पर गंगा एक्सप्रेस-वे निकलेगा। इसके लिये अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इसी बीच यूपीडा ने पीडब्ल्यूडी, रेलवे, वन विभाग सहित राजस्व विभाग से जानकारी मांग ली है कि कहां-कहां क्रासिंग को ओवरब्रिज बनाये जायेंगे। इसके लिये भूमि कितनी अधिग्रहण की जायेगी। जिसके लिये बजट जारी करना होगा। इसके लिये बजट को प्रस्ताव बनाकर दिया जाये। गंगा एक्सप्रेस-वे में जहां-जहां मार्ग हाईवे, स्टेट हाईवे, रेलवे मार्ग निकल रहा है वहां पर ओवरब्रिज बनाये जायेंगे।

रेलवे और पीडब्ल्यूडी से मांगी रिपोर्ट

गंगा एक्सप्रेस-वे बदायूं से होकर गुजरेगा। इसमें रेलवे क्रासिंग एवं हाईवे, स्टेट हाईवे, संपर्क मार्ग, गांव के मार्ग निकले हैं। जिनके बीच से एक्सप्रेस-वे निकला है। इसके लिये प्रशिक्षण में ही यूपीडा के सीईओ कह गये थे कि ब्रिज बनाये जायेंगे और ऊपर से एक्सप्रेस-वे निकाला जायेगा। इसके लिये रेलवे विभाग, पीडब्ल्यूडी, राजस्व विभाग से रिपोर्ट मांग ली गई है।

गांव का तैयार हो रहा नक्शा

गंगा एक्सप्रेस-वे के लिये भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू हो गया है इसके लिये अधिकारियों ने चिह्नाकन एवं गांव के नक्सा बनाने शुरू कर दिये हैं। राजस्व विभाग के अधिकारी अपनी सूची बनाकर देंगे कि गंगा एक्सप्रेस-वे 83 गांव से निकल रहा है। इसमें ऐसे कितने गांव हैं जिनके मुख्य मार्ग से होकर निकल रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Overbridge will be made for crossing and crossing state highway