DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बदायूं  ›  गो संरक्षण केंद्र में उपचार न चारा, दम तोड़ रहे गोवंश

बदायूंगो संरक्षण केंद्र में उपचार न चारा, दम तोड़ रहे गोवंश

हिन्दुस्तान टीम,बदायूंPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:50 AM
गो संरक्षण केंद्र में उपचार न चारा, दम तोड़ रहे गोवंश

बिनावर। कोरोड़ों रुपये से गो संरक्षण केंद्र तैयार हुआ और लाखों रुपये गोवंश के पालन पोषण के नाम पर खपाया जा रहा है। मगर इसके बाद भी पशुपालन विभाग पशुओं की सुरक्षा व संरक्षण नहीं कर पा रहा है। बिना चार और दाना-चोकर के गोवंश बीमार होकर दम तोड़ रहे हैं। इसी वीडियो पूर्व केंद्रीय मंत्री के पास पहुंच गयी है। जिस पर बखेड़ा खड़ा हो गया है और एसडीएम ने जांच कर रिपोर्ट डीएम को दी है।

बिनावर-रफियाबाद के गोसंरक्षण का मामला सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी तक पहुंचा। पूर्व केंद्रीय मंत्री से शिकायत की गयी और फिर उन्होंने गो संरक्षण केंद्र में गोवंश द्वारा दम तोड़ने की स्थिति की वीडियो को मंगवाकर देखा। इसके बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री ने डीएम को फोन किया और पूरी हकीकत बतायी और तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिये। डीएम दीपा रंजन ने इस पर एसडीएम सदर लाल बहादुर को गो संरक्षण केंद्र भेजा। यहां एसडीएम ने निरीक्षण किया। यहां पर दो गाय मरी हुयी मिली और 8 गाय गंभीर हालत में पाई गई।

इसके बारे में जब संचालक और अन्य कर्मचारियों से पूछा तो वह जबाव नहीं दे पाये कि बिना चारा के गोवंश दम तोड़ रहे हैं थोड़ा बहुत केवल सूखा भूसा खिलाया जा रहा है। इस पर चिकित्सा टीम को भेजा गया और उपचार कराया है, वहीं पशुओं के चारा की व्यवस्था कराई जा रही है। इस मामले में रेस्क्यू टीम बरेली धीरज पाठक, पशुप्रेमी विकेंद्र कुमार शर्मा डीएम से शिकायत की है और कार्रवाई की मांग की है।

डीएम के निर्देश पर गये थे गो संरक्षण केंद्र गये थे वहां कुछ गाय बीमार पड़ीं थी उपचार के लिये पशु चिकित्सा टीम लगा दी है। एक गाय की मौत हुई है। चारा में केवल भूसा है, चोकर व दाना पानी खिलाने के लिये कहा गया है। निरीक्षण रिपोर्ट डीएम को दी गई है, अग्रिम कार्रवाई जो भी होगी वह डीएम स्तर से होगी

लालबहादुर सिंह, एसडीएम सदर

संबंधित खबरें