DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बदायूं  ›  मां बाप से बड़ा कोई तीर्थ स्थल नहीं : रविकांत
बदायूं

मां बाप से बड़ा कोई तीर्थ स्थल नहीं : रविकांत

हिन्दुस्तान टीम,बदायूंPublished By: Newswrap
Mon, 03 Feb 2020 12:52 AM
शहर के मोहल्ला इंदिरा नगर में कलश यात्रा के बाद श्रीमदभागवत कथा शुरू हो गई।
1 / 2शहर के मोहल्ला इंदिरा नगर में कलश यात्रा के बाद श्रीमदभागवत कथा शुरू हो गई।
शहर के मोहल्ला इंदिरा नगर में कलश यात्रा के बाद श्रीमदभागवत कथा शुरू हो गई।
2 / 2शहर के मोहल्ला इंदिरा नगर में कलश यात्रा के बाद श्रीमदभागवत कथा शुरू हो गई।

शहर के मोहल्ला इंदिरा नगर में कलश यात्रा के बाद श्रीमदभागवत कथा शुरू हो गई। पहले दिन आचार्य रविकांत शास्त्री ने सुखदेव महाराज की कथा सुनाई।

कथा के दौरान बीच-बीच में मनोहारी झाकियां भी निकाली गई।श्रीमदभागवत कथा से पहले रविवार को कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा की शुरुआत गौरी शंकर मंदिर से की गई। जो कि यहां से आवास विकास पहुंची। यहां से वापस होकर कलश यात्रा कथा स्थल पर पहुंचकर श्रीमदभागवत कथा में बदल गई। आचार्य रविकांत शास्त्री ने लोगों को सदमार्ग पर चलने के लिए जोर दिया।

उन्होंने मां बाप की सेवा पर जोर देते हुए कहा कि इनसे बड़ा कोई तीर्थ स्थल नहीं है। प्रत्येक व्यक्ति को मां बाप की सेवा अवश्य करना चाहिए। सेवा का मिल किसी ने किसी रूप में निश्चित मिलना है।

कथा के समापन पर भक्तों को प्रसाद वितरित किया गया। अनुज कुमार मिश्रा, मोनी मिश्रा, गौरी शर्मा, आकाश, अनिल शर्मा, रामपाल, अखिलेश शर्मा, हरकेश, अजय शर्मा, विनोद कुमार शर्मा, अंकुर शर्मा,राजीव शर्मा मौजूद थे।

संबंधित खबरें