ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बदायूंखनन कर रहे खनन माफिया सहित वाहनों को पकड़ा, पुलिस ने भगाया

खनन कर रहे खनन माफिया सहित वाहनों को पकड़ा, पुलिस ने भगाया

थाना क्षेत्र में बीते लंबे अरसे से अवैध खनन का धंधा चल रहा है। थाने से महज एक किलोमीटर दूरी पर कई दिनों से धड़ल्ले से रातोंरात जेसीबी मशीन से खनन का...

खनन कर रहे खनन माफिया सहित वाहनों को पकड़ा, पुलिस ने भगाया
हिन्दुस्तान टीम,बदायूंMon, 04 Dec 2023 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

थाना क्षेत्र में बीते लंबे अरसे से अवैध खनन का धंधा चल रहा है। थाने से महज एक किलोमीटर दूरी पर कई दिनों से धड़ल्ले से रातोंरात जेसीबी मशीन से खनन का काला कारोबार चलता रहा। जिसकी शिकायत किसानों ने थाने में की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई तो शनिवार की रात फैजगंज बेहटा और गांव दावरी के ग्रामीण गुस्से में आ गए, इन ग्रामों के किसानों का कहना है कि रात भर जागकर वह जानवरों से अपनी फसल की रखवाली करते हैं। वहीं मिट्टी से भरे ट्रैक्टर उनकी फसल को बर्बाद कर रहे हैं। वहीं शनिवार की रात फैजगंज बेहटा और ग्राम दावरी के ग्रामीण लामबंद होकर खनन वाली जगह पहुंच गए, ग्रामीणों के गुस्से को देखते हुए खनन माफिया ने पहले गर्म तेवर दिखाए, लेकिन उग्र हुए किसानों के गुस्से के बाद खनन माफिया और उसके गुर्गे शांत हो गए। जिसके बाद खनन माफिया ने थाने पर फोन किया, कुछ ही देर बाद माफिया के इशारे पर एक दरोगा और चर्चित कांस्टेबल ने फोन किया मगर किसान नहीं मानें तो मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद पुलिस ने किसानों को हड़काना शुरु किया, लेकिन किसानों के गुस्से को देखते हुए, पुलिस ने खनन कर रहे लोगो को मौके से भाग जाने को कहा, पुलिस के इशारे के बाद खनन कर रहे लोग वहां से भाग निकले, ग्रामीणों ने पुलिस से ट्रेक्टर ट्राली और जेसीबी मशीन को थाने ले जाने को कहा तो पुलिस टालमटोल कर वापस चली गई। बाद में भारी संख्या में किसान इकठ्ठे हो गए, और मिट्टी से भरे ट्रेक्टर ट्राली तथा जेसीबी मशीन लेकर थाने पहुंच गए। आरोप है कि पुलिस ने यहां कार्रवाई की जगह माफियाओं को भगाने का काम किया। रविवार को किसानों ने एकत्रित होकर खनन माफिया व खेत स्वामी के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। थानाध्यक्ष वेदपाल सिंह ने बताया कि खनन अधिकारी को बताया गया, उनके आने पर कार्रवाई की जायेगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें