DA Image
25 जनवरी, 2021|3:46|IST

अगली स्टोरी

थानों में कबाड़ वाहन फैला रहे मलेरिया-टाइफाइड

थानों में कबाड़ वाहन फैला रहे मलेरिया-टाइफाइड

जिले में कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के साथ ही उससे जूझ रही खाकी पर अब मलेरिया और टाइफाइड जैसे मौसमी वायरस ने हमला कर दिया है। बिनावर थाने के दरोगाओं समेत सिपाही इस बुखार की चपेट में आ चुके हैं। अन्य थानों में भी कई सिपाहियों को वायरल और मलेरिया जैसे वायरस ने जकड़ना शुरू कर दिया है। इसकी एक वजह थानों में मौजूद कबाड़ वाहनों का जखीरा भी है। मालों का निस्तारण न होने के कारण कबाड़ हो चुके इन वाहनों में मच्छर पनप रहे हैं और यही मच्छर खाकी पर हमलावर होने लगे हैं।

कोरोना संक्रमण के चलते थानों में सफाई व्यवस्था तो काफी बेहतर हो गई है। मास्क लगाने के साथ ही पुलिसकर्मी बार-बार सेनिटाइजर से हाथ भी धोते दिखते हैं। फरियादियों को भी बिना हाथ धोये थानों में नहीं घुसने दिया जाता। बावजूद इसके उझानी समेत पुलिस लाइन में तैनात इंस्पेक्टर से लेकर दरोगा व सिपाहियों में संक्रमण की पुष्टि हो गई थी। खाकी कोरोना से तो खाकी जंग लड़ ही रही है लेकिन इसी बीच मलेरिया और डेंगू ने भी हमला बोल दिया है। इसकी एक वजह जिले के कई थानों में खड़े माल मुकदमाती वाहन भी हैं। क्योंकि इन्हीं वाहनों में मच्छर और लार्वा पनपकर पुलिसकर्मियों को इस वायरस की चपेट में ला रहा है।

लखनपुर में प्रस्तावित है यार्ड

पुलिस के यार्ड में जिले भर के थानों में खड़े वाहनों को खड़ा किया जाना है। जो भी वाहन बरामद होंगे या लावारिस हालत में मिलेंगे, उन्हें थानावार यहां खड़ा किया जायेगा। सबसे बड़ा ‌फायदा यह रहेगा कि थानों में किसी तरह का कबाड़ नहीं रहेगा। सफाई व्यवस्था दुरुस्त रहने से मच्छर भी नहीं पनपेंगे। इसके लिए दातागंज रोड पर लखनपुर के पास यार्ड बनना शुरू हो चुका है।

यार्ड का काम लगातार जारी है। इसके बाद सभी वाहनों को उसमें खड़ा किया जायेगा। थानों में सफाई व्यवस्था काफी दुरुस्त है। वहां मच्छर या लार्वा पनपने की संभावना काफी कम है।

प्रवीन सिंह चौहान, एसपी सिटी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Malaria-typhoid are spreading junk vehicles in police stations