DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ की टीम ने जांच पड़ताल में गुजारा दूसरा दिन

लखनऊ की टीम ने जांच पड़ताल में गुजारा दूसरा दिन

बुखार ग्रस्त इलाके को लखनऊ से आई टीम ने दो दिन में खंगाल लिया है और जांच पड़ताल के बाद दो ही दिन में जिले के में फैले फाल्सीपेरम मलेरिया से पीड़ित लोग सामने ला दिए हैं।

वहीं जिले में संक्रामक रोगों को दौड़ रही टीमों की मैन पॉवर को भी बढ़ा दिया है। जिससे जिले में संक्रामक रोगों पर काबू पाया जा सके। इसके लिए टीम ने दूसरे दिन फिर से पांचों ब्लाकों में निरीक्षण किया है। लखनऊ से आई टीम मंगलवार को जगत, समरेर, दागगंज, सालारपुर ब्लाक क्षेत्र में गांवों का निरीक्षण किया। जिसमें लखनऊ से टीम में डॉ. अखिलेश त्रिपाठी संयुक्त निदेशक, अनिल कुमार यादव, डॉ. एके वर्मा संयुक्त निदेशक, रामकेत यादव वरिष्ठ मलेरिया इंस्पेक्टर के अलावा अन्य अधिकारी शामिल थे।

मंगलवार को सीएचसी जगत पर दोपहर करीब 2.50 बजे पहुंच गए। एमओआईसी डॉ पवन कुमार से क्षेत्र के गांव में फ़ैली बीमारियों की स्थिति के बारे में जानकारी ली। स्वास्थय विभाग की टीम ने जो सीएचसी केन्द्र से सात गठित टीमों के स्वास्थ्य कैंपों का निरीक्षण किया। सीएचसी से मंगलवार को डॉ एस-सी गुप्ता की चार सदस्यों वालों टीम गिधौल पर कैंप लगाकर मरीजों का चैकअप कर दवाएं वितरण की। लखनऊ से आई स्वास्थ्य विभाग के डॉ. मानवेंद्र त्रिपाठी की टीम ने सीएचसी केंद्र जगत के एमओआईसी डॉ. पवन कुमार व डॉ. जितेंद्र कुमार राठौर, डा. वैभव, डा. युसुफ, राजेंद्र प्रसाद वर्मा फार्मासिस्ट, सत्य प्रकाश फार्मासिस्ट समेत स्टाफ के साथ बैठक की।

मानवेंद्र त्रिपाठी ने सीएचसी के एमओआईसी समेत पूरे स्टाफ को निर्देश दिए कि गांव में समय से आठों टीमों को भेजे और संक्रामक रोगियों की जांच कर दवाएं वितरण कराईं। इसके अलावा टीमें दातागंज ब्लाक के गांव बीरमपुर, सलेमपुर, आनंदपुर, बक्सेना समेत दर्जनों गांव में गई। वहीं इसके अलावा समरेर और सालारपुर ब्लाक गांव में जाकर भी टीमों ने निरीक्षण किया है। वहीं टीमों ने मरीजों का चेकअप किया है, टीम ने किट के माध्यम से कई चेकअप किए हैं, जिसमें फाल्सीपेरम मलेरिया और पीवी मलेरिया भी निकला है। कहां गई कौनसी टीममंगलवार को सीएचसी जगत से टीमें बनाकर अलग-अलग गांव में भेजी गई।

डा. मोहम्मद फहीम की टीम मनकापुर सरोरा, कमालपुर गई। डॉ. नीलिमा मल की टीम मौजमपुर और जगुआसई में स्वास्थ्य कैंप लगाया। डॉ. दमयंती वर्मा की टीम परसुरा बड़ा, छोटा गई। डॉ अनुराधा की टीम महोरा, मररई, डॉ. गौरव की टीम रहमा, लखनपुर, डॉ. नाजरा कीचड़ टीम कुण्डेली, मचलई, पुनाउ, डॉ. हेमेन्द्र पाल की टीम रूखडा खौला में स्वास्थय कैंप लगाकर उपचार दिया। स्लाइडों से होगी जांचजिले में लखनऊ की टीम के चेकअप अभियान में जिन लोगों को आरडीटी की किट से फाल्सीपेरम मलेरिया निकला है। उन लोगों की एक बार अभी स्लाइड से जांच और कराई जाएगी। टीम ने कहा कि एक बार स्लाइड से जांच और कराएंगे। जिससे साफ हो सके कि आखिर कौन सा मलेरिया है। निकालेंगे स्थाई व्यवस्थाजिले के पांच ब्लाकों मे दो दिन से घूम रही लखनऊ की टीम ने काफी कुछ संक्रामक रोगों को लेकर तलाशा है।

टीम ने हर स्तर से जांच कर रिपोर्ट तैयार की है, जिसमें तय किया है कि इन में जो हर वर्ष संक्रामक रोग फैलते हैं वह जिले की सबसे बड़ी समस्या है और टीम का मानना है कि शासन स्तर पर अगर बैठकर तैयारी कर ली जाए तो समस्या का स्थाई रास्ता निकला जाएगा।चुपचाप किया महिला अस्पताल का निरीक्षणलखनऊ से आई टीम ने मंगलवार को चुपचाप तरीके से महिला अस्पताल का निरीक्षण कर लिया, लेकिन किसी भी अफसर को हवा तक नहीं लगी। टीम ने पूरे अस्पातल का निरीक्षण कर रिपोर्ट तैयार कर ली है और व्यवस्थाओं से शासन स्तर की यह टीम नाराज रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lucknow s team spent the second day in the investigation