DA Image
23 नवंबर, 2020|10:33|IST

अगली स्टोरी

जिले के 98 घर और 125 केंटनर में मिला लार्वा

जिले के 98 घर और 125 केंटनर में मिला लार्वा

जांच और सर्वे में साफ हो गया है कि डेंगू का लार्वा तो घरों में ही पल रहा है। मजिस्ट्रेट अफसरों ने स्वास्थ्य विभाग की टीमों को साथ लेकर तीन दिवसीय अभियान जारी रखा है। जिसमें घर-घर जाकर सर्वे किया तो लार्वा मिला है। जिसे नष्ट कराने के साथ ही लोगों को नोटिस दिया है और चेतावनी दी है।

शनिवार को डीएम कुमार प्रशांत के निर्देश पर तीन दिवसीय डोर टू डोर हाउस बार सर्वे जारी रहा है। डीएम ने इसका निरीक्षण सैदपुर में किया है। जिले के बिसौली सैदपुर और शहर के अलावा म्याऊं के गांव में अभियान चला है। जहां कैंप लगाकर लोगों को उपचार दिया है और जांच की गई है। साथ ही घरों में लार्वा चेक किया है। शहर में स्वास्थ्य और मलेरिया विभाग की टीमों ने 335 घर को चेक किया है, जिसमें 868 कंटेनर देखे गये हैं। इसमें 44 घरों व 53 कंटेनर में डेंगू का लार्वा मिला है। जिसे टीमों ने मौके पर ही नष्ट कराया है। इधर पूरे जिले में कुल 857 घर चेक किये गये और 2788 कंटेनर चेक किये। इसमें 98 घरों 125 कंटेनर में लार्वा मिला है। इससे साफ हो गया है कि डेंगू का मच्छर घरों में ही पल रहा है।

सेवा नगला और नवीगंज में निकला फैल्सीपेरम

स्वास्थ्य विभाग की ओर से म्याऊं ब्लाक के गांव नवीगंज और सेवा नगला में स्वास्थ्य कैंप लगाये गये। स्वास्थ्य कैंप में सीएचसी म्याऊं की टीम ने कैंप लगाकर उपचार दिया और आरडीटी किट से जांच भी की है। इसमें गांव नवीगंज में 64 लोगों की जांच की गई। जिसमें कोई मरीज डेंगू, मलेरिया का नहीं मिला है। वहीं सेवा नगला म्याऊं 30 रोगियों की आरडीटी किट से जांच की तथा 23 लोगों की स्लाइड बनाई गई है। इसमें सात को फैल्सीपेरम व एक को पीवी मलेरिया निकला है।

बिल्सी कस्बा में 14 बुखार के मरीज मिले

डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग का घर-घर जाकर सर्वे और कैंप लगाया गया। जिसमें बिल्सी कस्बा के मोहल्ला नंबर एक में 30 लोगों को उपचार दिया गया है इसके अलाव कस्बा के 14 मरीज बुखार मिले हैं। टीमों द्वारा इनकी जांच की गई है मगर डेंगू, और मलेरिया नहीं मिला है। इधर बिल्सी के रायपुर बुजुर्ग स्वास्थ्य केंद्र पर कैंप लगाकर 20 मरीजों को इलाज दिया गया। जिसमें 11 लोगों की जांच की गई।

बिसौली में 30 की जांच की

तहसील मुख्यालय बिसौली में स्वास्थ्य विभाग ने घर-घर सर्वे शुरू कर दिया है। जिसमें कस्बा के मोहल्ला साहूकारा में कैंप लगाकर 30 मरीजों को उपचार दिया गया है। वहीं कस्बा के दस लोगों की जांच भी की गई है। मगर किसी को डेंगू, मलेरिया एवं फैल्सीपेरम नहीं निकला है। टीम का सर्वे कार्य जारी बना है।

सैदपुर में मिला लार्वा

डेंगू का प्रकोप सैदपुर कस्बा में फैल चुका है। जिस पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सर्वे चल रहा है। सर्वे में शनिवार को 119 घरों को चेक किया गया। जिसमें सैदपुर कस्बा के 289 कंटेनर चेक किये हैं। इसमें टीमों को कस्बा के चार घरों में लार्वा मिला है यह लार्वा घरों के सात कंटेनरों में भरा था। जिसको टीम ने मौके पर ही नष्ट करा दिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Larvae found in 98 houses and 125 kentner in the district