DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोर्ड परीक्षा की तैयारियों में जुटा विभाग

माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा सत्र 2018-19 की यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए केंद्रों की ऑनलाइन निर्धारण प्रक्रिया शुरू हो गई है। बोर्ड परीक्षाओं की तिथि घोषित होने के साथ ही विभाग तैयारियों में जुट गया है। डीआईओएस ने सभी विद्यालयों को बोर्ड की वेबसाइट पर स्कूल की सूचनाएं अक्टूबर तक अपलोड करने को कहा है।

बोर्ड परीक्षाओं को इस बार भी नकलविहीन कराने के लिए अभी से तैयारियां शुरू हो गई हैं। बोर्ड ने सभी विद्यालयों से अपनी जानकारी को वेबसाइट पर अपलोड कर हार्ड कॉपी को अक्टूबर तक डीआईओएस कार्यालय में उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। उपलब्ध सूचना के आधार पर स्कूल का भौतिक सत्यापन कराया जाएगा। इसके बाद नबंवर के पाक्षिक कार्य दिवस में जांच रिपोर्ट तैयार कर बोर्ड को भेजी जाएगी।

यदि उपलब्ध सूचनाओं और भौतिक सत्यापन के बीच कोई अंतर पाया जाता है तो विद्यालय पर कार्रवाई की जाएगी। इसलिए सभी स्कूल संचालकों को सही सूचनाएं ही वेबसाइट पर अपलोड करने का आदेश दिया गया है।जिले में कुल 272 विद्यालय हैं। ऐसे में अभी तक बड़ी संख्या में विद्यालयों द्वारा जानकारी को अपलोड करने में लेटलतीफी करने के साथ ही आनाकानी की जाती है। यदि समय पर जानकारी को अपलोड नहीं किया गया तो विद्यालय पर कार्रवाई होना तय है।

आई हुई जानकारियों की भौतिक सत्यापन में डीआईओएस की रिपोर्ट पर अगर किसी स्कूल संचालक को आपत्ति होती है तो वह नबंवर तक अपनी आपत्ति दर्ज करा सकता है। आई हुई आपत्तियों को निराकरण के लिए ज्वाइन डायरेक्टर को दिया जाएगाइस बार लगाना होगा वॉइस रिकॉर्डरयूपी बोर्ड परीक्षाओं में नकल को जड़ से खत्म करने के लिए इस बार बोर्ड ने परीक्षा केंद्रों के कक्ष में वॉइस रिकॉर्डर लगाने का आदेश दिया है।

ऐसे में अब शिक्षकों के बोलकर नकल कराने का रास्ता भी बंद हो जाएगा। बीते वर्ष सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के बाद भी शिक्षकों पर बोलकर नकल कराने के आरोप लगते रहे थे। जिसके बाद अब प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश कुमार शर्मा ने स्वयं इस बात का खुलासा करते हुए परीक्षा केंद्रों के सभी कक्ष में वॉइस रिकॉर्डर लगाने के बारे में जानकारी दी है।

इन बिंदुओं की देनी है सूचना

स्कूल हाईस्कूल तक या इंटर तक-हाईस्कूल तक किस तरह की मान्यता-इंटर तक किस तरह की मान्यता-मान्यता बालक की या बालिका की-स्कूल शहरी या ग्रामीण-लिंटर युक्त कमरों की संख्या और आकार-पेपर रखने को लोहे की अलमारियों की संख्या-स्कूल में अग्निशमन उपकरण की संख्या-क्या स्कूल सड़क मार्ग से जुड़ा है-स्कूल में चाहरदिवारी है या नहीं-स्कूल में बिजली, जेनसेट की स्थिति-स्कूल में सीसीटीवी कैमरे की स्थिति-पेयजल, टॉयलेट की स्थिति-कंप्यूटर सिस्टम और दो कंप्यूटर आपरेटर की उपलब्धता-एक ही प्रबंध तंत्र से संचालित स्कूलों के कोड और नाम-स्कूल में छात्रों के बैठने की क्षमता

शासन की मंशानुसार बोर्ड परीक्षाओं को नकलविहीन कराया जाएगा। ऐसे में परीक्षा की तिथि घोषित होने के साथ ही अब विद्यालयों को सूचनाएं देने के लिए आदेशित कर दिया गया है।

राममूरत, डीआईओएस

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Information sought for board center determination order issued to all schools