ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बदायूंअयोध्या से आए अक्षत कलश का हवन पूजन

अयोध्या से आए अक्षत कलश का हवन पूजन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विश्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में अक्षत कलश का पूजन यज्ञ बिरूआबाड़ी मंदिर में संपन्न हुआ। वक्ताओं ने कहा कि जिले के चार...

अयोध्या से आए अक्षत कलश का हवन पूजन
हिन्दुस्तान टीम,बदायूंWed, 06 Dec 2023 02:45 AM
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विश्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में अक्षत कलश का पूजन यज्ञ बिरूआबाड़ी मंदिर में संपन्न हुआ। वक्ताओं ने कहा कि जिले के चार लाख हिंदू परिवारों तक रामलला विराजमान का आमंत्रण पहुंचाएंगे।
बिरुआबाड़ी मंदिर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विश्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में अयोध्या में बनने वाले भगवान श्री राम के अलौकिक एवं भव्य मंदिर में रामलला के विराजमान होने के उपलक्ष्य में अयोध्या से पूजित अक्षत कलश का हवन पूजन किया गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक विशाल कुमार ने कहा कि 496 वर्ष के लंबे इंतजार के बाद अयोध्या में भगवान श्री रामलला के प्राकट्य स्थल पर मंदिर बनने के शुभ अवसर पर सुंदर एवं रमणीय स्थल के गर्भ ग्रह में श्री राम लला विराजमान विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी 2024 को होगी। उल्लास पर्व के अवसर पर पूरे देश में घर-घर दीपावली मनायी जाएगी। प्राण प्रतिष्ठा का लाइव प्रसारण दोपहर में प्रत्येक मंदिर पर होगा। 22 जनवरी का आमंत्रण सदर विधायक महेश चंद्र गुप्ता को दिया गया। 26 जनवरी को जिले से 100 कार्यकर्ता अयोध्या पहुंचेंगे। प्रत्येक नगर एवं ग्राम सभा में 11-11 लोगों की टीम गठित की जा रही है। यह टीम एक जनवरी से 15 जनवरी 2024 तक महाजनसंपर्क अभियान के तहत अक्षत , श्री राम का चित्र एवं पत्र के माध्यम से जिले के चार लाख हिंदू परिवारों में अयोध्या चलने का आमंत्रण पहुंचाएगी। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग संचालक सुनील कुमार गुप्ता,मठ मंदिर प्रमुख राजीव जौहरी, जिला प्रचारक घनश्याम, मुख्य यजमान नीरज कोचर, नीरज रस्तोगी, उज्जवल गुप्ता डॉ. उमा सिंह गौर, तरुषा अरोड़ा, रचना शंखधार, केशव नाथ वैश्य, मयंक प्रताप सिंह, सत्य प्रकाश मौर्य, जगजीवन राम, विचित्र सक्सेना, शिवम, मून गुप्ता, राजीव कुमार, डीएन शर्मा, नीरज शर्मा, मनोज शर्मा, राजकुमार सिंह सेंगर मौजूद थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें