DA Image
19 अक्तूबर, 2020|9:04|IST

अगली स्टोरी

लाइनमैन की मौत पर भड़के परिजन, हंगामा

लाइनमैन की मौत पर भड़के परिजन, हंगामा

कादरचौक के सकरी जंगल गांव में मोबाइल टॉवर की लाइन ठीक करते वक्त करंट की चपेट में आकर लाइनमैन की मौत के दूसरे दिन मंगलवार को परिजनों ने उझानी बिजलीघर पर शव रखकर हंगामा शुरू कर दिया।

परिवार वालों का कहना था कि शटडाउन लेने के बाद लाइनमैन पोल पर चढ़ा था। ऐसे में सप्लाई कहां से आ गई। बिजली विभाग के जिम्मेदारों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने मुआवजे की मांग की। अधिकारियों ने पुलिस भी मौके पर बुला ली।

जबकि बाद में अधिशासी अभियंता ने लाइनमैन की पत्नी को पांच लाख रुपये का मुआवजा चेक दिया तो परिजन शव लेकर लौट गए। गांव नगला शेखपुरा में रहने वाले संविदा लाइनमैन चरन सिंह की सोमवार शाम करंट से मौत हो गई थी। हादसा उस वक्त हुआ जब चरन सिंह टॉवर की लाइन संभाल रहा था।

इस दौरान करंट की चपेट में आकर उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भिजवा दिया। देर रात परिजन भी मौके पर पहुंच गए। इधर, हादसे से लेकर पोस्टमार्टम तक बिजली विभाग का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। इससे आक्रोशित परिजन उझानी बिजलीघर पहुंचे और वहां शव रखकर हंगामा शुरू कर दिया।

भाई अनोखेलाल ने बताया कि लाइनमैन कंट्रोलरूम से शट डाउन लेकर लाइन संभालने चढ़ा था। ऐसे में बिजली सप्लाई कैसे आ गई, उन्होंने लापरवाही का आरोप लगाया। हंगामा बढ़ते देख अधिशासी अभियंता प्रवेश कुमार ने पुलिस बुला ली।

पुलिस ने भी भीड़ को काफी समझाया लेकिन लोग मुआवजे की मांग पर अड़े थे। बाद में अधिशासी अभियंता ने पांच लाख रुपये का चेक मृतक की पत्नी रूबी को देने के साथ ही समझाया तो लोग लौट गए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Family rage over lineman 39 s death ruckus