Drying crops of 20 thousand farmers in 300 villages XN summit - 300 गांव में 20 हजार किसानों की सूखी फसल, एक्सईएन तलब DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

300 गांव में 20 हजार किसानों की सूखी फसल, एक्सईएन तलब

300 गांव में 20 हजार किसानों की सूखी फसल, एक्सईएन तलब

1 / 2किसानों का दर्द विद्युत अफसरों के आगे आंसू बहा रहा है, मगर विद्युत विभाग के अफसरों को कोई मतलब नहीं है, जबकि 300 गांव के 20 हजार किसानों की फसलें बिन पानी संकट में आ गई...

300 गांव में 20 हजार किसानों की सूखी फसल, एक्सईएन तलब

2 / 2किसानों का दर्द विद्युत अफसरों के आगे आंसू बहा रहा है, मगर विद्युत विभाग के अफसरों को कोई मतलब नहीं है, जबकि 300 गांव के 20 हजार किसानों की फसलें बिन पानी संकट में आ गई...

PreviousNext

किसानों का दर्द विद्युत अफसरों के आगे आंसू बहा रहा है, मगर विद्युत विभाग के अफसरों को कोई मतलब नहीं है, जबकि 300 गांव के 20 हजार किसानों की फसलें बिन पानी संकट में आ गई हैं।

अगर किसानों की फसलों को दो-चार दिन पानी और न मिले तो नष्ट हो जाएंगी। किसानों के सामने बड़ी समस्या खड़ी है कि जो रोजी-रोटी थी, वही नष्ट होने जा रही है, अगर डीएम किसानों की समस्या पर गौर न करें तो विद्युत विभाग के अफसरों ने किसानों का गला घोंटने का इंतजाम कर दिया है।बुधवार को डीएम दिनेश कुमार सिंह ने जिले विद्युत खंड तृतीय बिसौली के एक्सईएन विनय कुमार तथा एसडीएम समेत पूरी टीम को तलब कर लिया।

डीएम ने पूछा सब ठीक चल रहा है तो अफसरों उस समय सफाई दे दी कि सब ठीक चल रहा है। मगर विद्युत विभाग के अफसरों को यह नहीं पता था कि किसानों ने परेशान होकर सीधे डीएम से शिकायत कर दी है। डीएम ने कहा किसानों की फसलें सूख रही हैं और एक-दो गांव में नहीं पूरे विद्युत खंड में लो वोल्टेज की समस्या है और कह रहे हो सब ठीक चल रहा है।

डीएम ने कड़ी नाराजगी जताई कहा कि 300 गांव के किसानों की मेहनत दांव पर लगी है अगर किसानों की फसलें सूख गई तो कौन जिम्मेदार होगा। डीएम ने एक्सईन से कहा कि यह लो वोल्टेज की समस्या खत्म करें, समय से बिजली दें और वोल्टेज की व्यवस्था को ठीक कराएं। डीएम ने तीन दिन का समय दिया है और सुधार को कहा है।

डीएम ने कहा कि एमडी को पत्र लिख रहा हूं समस्या को ठीक कराएं। किसानों की फसलें सूख गई तो कार्रवाई से कोई भी अफसर बच नहीं पाएगा। बतादें कि इस विद्युत खंड में 15 उपकेंद्रों से 300 गांव को बिजली सप्लाई दी जाती है। जिसमें इस समय करीब 20 हजार किसानों की फसल सिंचाई के लिए जरूरत है, सिंचाई बिन सूख रही हैं। घरों में विद्युत उपकरण भी शोपीस बन गए हैं। मगर डीएम को सबसे ज्यादा दुख किसानों की समस्या का है, जिस पर गंभीरता दिखाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Drying crops of 20 thousand farmers in 300 villages XN summit