DA Image
23 जनवरी, 2020|8:45|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, जांच कराएं

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, जांच कराएं

1 / 3स्वास्थ्य विभाग संग गोदरेज कंपनी द्वारा गोद लिए गांव में इन दिनों संक्रामक रोगों पर अभी से काबू करने के लिए टीमें भेजी जा रही...

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, जांच कराएं

2 / 3स्वास्थ्य विभाग संग गोदरेज कंपनी द्वारा गोद लिए गांव में इन दिनों संक्रामक रोगों पर अभी से काबू करने के लिए टीमें भेजी जा रही...

कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है, जांच कराएं

3 / 3स्वास्थ्य विभाग संग गोदरेज कंपनी द्वारा गोद लिए गांव में इन दिनों संक्रामक रोगों पर अभी से काबू करने के लिए टीमें भेजी जा रही...

PreviousNext

स्वास्थ्य विभाग संग गोदरेज कंपनी द्वारा गोद लिए गांव में इन दिनों संक्रामक रोगों पर अभी से काबू करने के लिए टीमें भेजी जा रही हैं। टीमें गांव-गांव जा रही हैं और बता रही हैं कि घर के आस पास देखे कही हम बीमारी के इर्द गिर्द तो नहीं है।

घरों के आसपास कहीं पानी तो नही भरा, यह हमे देखने की बहुत जरूरत है। मलेरिया और डेंगू जैसी मच्छरजनित बीमारियों से बचना है तो घर में और घर के बाहर भरे पानी को खत्म करना होगा।जिले भर के 15 ब्लाकों में स्वास्थ्य विभाग की नई पहल चल रही है। स्वास्थ्य विभाग उत्तर प्रदेश सरकार, गोदरेज इंडिया के सहयोग से फैमिली हेल्थ इंडिया द्वारा संचालित एम्बेड परियोजना सौ गांव में चल रही है।

इन सौ गांव को पिछले चार महीने पहले गोद लिए जा चुके हैं। गुरुवार को ग्राम बसैला, मरऊ, धरली में गांव के लोगों संग बैठक की। इस दौरान मलेरिया इंस्पेक्टर तनवीर सिंह यादव ने कहा कि कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है सबसे पहले नजदीकी सरकारी केंद्र पर खून की जांच कराएं।

एम्बेड परियोजना के जिला समन्वयक डॉ. संतोष भार्गव ने बताया कि गांवों में मलेरिया, डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियों की को जनजागरूकता अभियान और घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं। वहीं गांव में टीम ने चौपाल लगाकर लोगों को ओइल्फिल्मइंग, और साफ सफाई की शपथ दिलाई। अभियान में ब्रजलता यादव, रहीश, विपिन, सचिन, परमवीर, धर्मेंद्र मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Any fever can be malaria get tested