DA Image
20 अक्तूबर, 2020|11:07|IST

अगली स्टोरी

आजमगढ़ में बेलहिया पुल बह जाने से ग्रामीणों को नाव ही सहारा

आजमगढ़ में बेलहिया पुल बह जाने से ग्रामीणों को नाव ही सहारा

घाघरा नदी के दक्षिण सटे तटवर्ती गांव देवारा खास राजा ,गागेपुर ,अचल नगर में कटान अभी जारी है । वहीं 18 अगस्त को कटान में बेलहिया पुल के बह जाने से ग्रामीणों के लिए नाव ही सहारा रह गया है।

घाघरा नदी का पानी गांव से निकल जाने के बाद अब कृषि योग्य भूमि कट रही है। अब तक हजारों एकड़ भूमि घाघरा में विलीन हो चुकी है। सैकड़ों घर भी घाघरा में समा चुके हैं। इधर 18 अगस्त को कटान से बेलहिया पुल के बह जाने के बाद से हजारों ग्रामीणों को नाव ही सहारा बना है।

नाव से लोगों का आना -जाना होता है । महुला -गढ़वल बांध से अजगरा मगरवी, आराजी अजगरा मगरवी, बेलैहिया आदि गांव के लोग रोजमर्रा के काम के लिए नाव से ही आ जा रहे हैं। बगैर नाव का कोई जा नहीं सकता है । एक नाव से आने -जाने पर लोगों को काफी परेशानी हो रही है। एक ही नाव होने से ग्रामीणों को खतरा बना रहता है। ग्रामीणों का कहना है कि उस समय और दिक्कत होती है,जब परिवार में कोई सदस्य बीमार हो जाता है और उसे अस्पताल ले जाना पड़ता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Villagers resort to boat only after the Belahiya bridge gets swept away in Azamgarh