DA Image
7 अगस्त, 2020|6:05|IST

अगली स्टोरी

प्रा.वि.सेमरी में पानी भरने से नहीं आ रहे शिक्षक

प्रा.वि.सेमरी में पानी भरने से नहीं आ रहे शिक्षक

जनपद के उत्तरी छोर पर बहने वाली घाघरा नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है। देवारावासियों के साथ प्रवासी मजदूरों को नाव न मिलने पर सिर पर सामान रखकर आना-जाना पड़ रहा है। वहीं प्राथमिक विद्यालय आराजी देवारा सेमरी में घाघरा बाढ़ का पानी भर जाने से शिक्षक स्कूल नहीं आ रहे हैं।

देवरांचल में बहने वाली घाघरा नदी का जलस्तर डिघिया गेज पर 24 घंटे में 16 सेमी की बढ़ोत्तरी हुई है। वही बदरहुआ गेज पर 24 घंटे में जलस्तर में 14 सेमी की वृद्धि दर्ज की गई। इससे देवारावासियों के लिए नदी के बढ़ते जलस्तर ने परेशानी खड़ी कर दिया है। देवारावासी अपने रोजमर्रा की वस्तुओं को बाजार से खरीदकर पानी के बीच से सामानों को सिर पर रखकर जा रहे है। वहीं बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूर अपने सामानों के साथ पानी से होकर तो कभी नाव से होकर घर जा रहे हैं। जिन प्रवासी मजदूरों को आने में देर हो जा रही है। उन्हें बंधे पर ही रात बिताना पड़ रहा है। सुबह होने पर वह अपने घर नाव या पैदल पानी के बीच से होकर जा रहे हैं। रात में नाव की सुविधा न मिलने के कारण काफी परेशानी हो रही है। महाराजगंज ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय आराजी देवारा सेमरी में बाढ़ का पानी भर जाने से शिक्षक स्कूल नहीं जा रहे हैं। इससे विद्यालय का कार्य भी बाधित हो रहा है। विद्यालय के हेड मास्टर हरिकेश यादव ने बताया कि खंड शिक्षाधिकारी महाराजगंज से विद्यालय को कहीं दूसरी जगह संचालित करने के लिए कहा गया है। जबकि अभी तक दूसरी जगह मिल नहीं पाया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Teachers are not coming to fill the water in Prof Semri