DA Image
19 फरवरी, 2021|4:10|IST

अगली स्टोरी

सपा ने निकाली ट्रैक्टर रैली, 27 नामजद व ढाई सौ अज्ञात पर केस

सपा ने निकाली ट्रैक्टर रैली, 27 नामजद व ढाई सौ अज्ञात पर केस

आजमगढ़। निज संवाददाता

कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर दिल्ली बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में गणतंत्र दिवस के अवसर पर मंगलवार को प्रतिबंध के बावजूद सपा के नेताओं में ट्रैक्टर रैली निकाली। इस दौरान महराजगंज, फूलपुर, अतरौलिया, सठियांव, बिलरियागंज व जिला मुख्यालय पर जबरदस्त प्रदर्शन किया। वहीं अतरौलिया, फूलपुर और कोयलसा में चक्का जामकर नारेबाजी की। रैली को काबू में करने के लिए पुलिस को कई जगह हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। मुबारकपुर में पुलिस से धक्का-मुक्की करने और बैरियर तोड़ने के मामले में पुलिस ने 47 नामजद और ढाई सौ अज्ञात सपा नेताओं पर केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

पुलिस की लाठी से अतरौलिया विधानसभा का रहने वाला एक कार्यकर्ता घायल हो गया। पुलिस ने कई जगहों पर सपाइयों का ट्रैक्टर समेत नेताओं को हिरासत में लेकर थाने चली गई। हालांकि बाद में सभी को छोड़ दिया गया। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व पार्टी के सभी विधायक, सांसद, पूर्व मंत्री समेत क्षेत्र के छोटे-बडे़ नेता कर रहे थे।

समर्थकों के साथ धरने पर बैठे पूर्व मंत्री

आजमगढ़। पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव और सपा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष हवलदार यादव के नेतृत्व में मंगलवार को सपाइयों का हुजूम ट्रैक्टर रैली निकालकर आगे बढ़ा। काफिला जैसे ही पूर्व मंत्री के आवास के आगे कोर्ट किला की तरफ पहुंचा, पुलिसवालों ने सभी को रोक लिया। पुलिस की तरफ से रैली रोके जाने से नाराज सपाई नारेबाजी करते हुए मौके पर धरने पर बैठ गए। करीब दो घंटे तक पुलिस और नेताओं के बीच चले बातचीत के दौर के बाद धरना समाप्त हो गया। इस अवसर पर बबतिा चौहान, श्रृंगारी गौतम, द्रौपती पांडेय, किरन श्रीवास्तव, नेता रिंकू यादव, विजय यादव आदि मौजूद रहे।

47 नामजद और ढाई सौ अज्ञात पर केस

सठियांव। सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में मंगलवार को मुबारकपुर के काशीपुर गांव से सपाईयों की ट्रैक्टर रैली निकली। वे जैसे ही कुछ दूर आगे बढ़े कि पुलिसवालों ने रोक लिया। पुलिस की घेराबंदी तोड़कर नेताओं ने ट्रैक्टर को आगे बढ़ाया। इसी बीच पूर्व मंत्री चंद्रदेव राम यादव का काफिला भी पहुंच गया। आजमगढ़-मऊ मार्ग पर सपाइयों की भीड़ खड़ी हो जाने से जाम लग गया। करीब दो घंटे तक इस मार्ग पर यातायात बाधित रहा। फखरुद्दीनपुर डगरा के पास पुलिस बीच सड़क पर ट्रक खड़ाकर सपाइयों का रास्ता रोकने की कोशिश किया, लेकिन असफल रहे। कुछ दूर आगे जाने पर एसडीएम सदर गौरव कुमार, सीओ सदर भारी फोर्स के साथ मौके पर खड़े होकर रोकने का प्रयास किया। नेताओं के उग्र तेवर को देखते हुए एसडीएम ने सभी को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। गिरफ्तारी के भय से मामला शांत हो गया। चौकी प्रभारी सठियांव ने तहरीर देकर थाने में 47 लोगों को नामजद और ढाई सौ अज्ञात लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है।

रैली रोकने के लिए पुलिस को भांजनी पड़ी लाठी

बूढ़नपुर। तहसील मुख्यालय पर मंगलवार की सुबह सपा नेताओं द्वारा ट्रैक्टर रैली निकाली गई। सूचना मिलते ही प्रशासन के कान खड़े हो गए। कुछ ही देर में मौके पर एसडीएम, सीओ भारी भरकम फोर्स लेकर पहुंच गए। अधिकारियों के मना करने के बाद भी ट्रैक्टर रैली जबरदस्ती तहसील में जाने लगी। इस पर प्रशासन ने नेताओं पर लाठी चार्ज कर दी। चोट लगने से सपा कार्यकर्ता उदयभान यादव घायल हो गएन् उनका आरोप है कि मुझ पर कप्तानगंज पुलिस द्वारा लाठी डंडे मारे गए, जिसमें मेरा हाथ फैक्चर हो गया है। इस मौके पर कोयलसा ब्लाक प्रमुख महेंद्र यादव, बर्मन यादव, बलवंत यादव, चंद्रजीत यादव, श्रवण यादव, सुनील यादव, हरिनाथ यादव, हरकेश यादव आदि मौजूद रहे।

विधायक सहित 50 लोगों को लिया हिरासत में

बिलरियागंज। गोपालपुर विधान सभा क्षेत्र से सपा विधायक नफीस अहमद के नेतृत्व में मंगलवार को सपा कार्यकर्ता ट्रैक्टर रैली की तैयारी कर रहे थे। नसीरपुर स्थित सपा कार्यालय पर चल रही तैयारी की सूचना मिलते ही एसओ बिलरियागंज धर्मेंद्र सिंह मौके पर पहुंच गए और रैली को न निकालने की बात कही। थानाध्यक्ष की बात से सपाई आक्रोशित होकर नारेबाजी करने लगे। इस दौरान एसओ और विधायक के बीच नोकझोंक हुई। पुलिस सपा विधायक के अलावा उनके समर्थक राजेश पासवान, आरिफ खान, दिनेश यादव, कमलेश यादव सहित करीब 50 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर थाने चले गए। बाद में निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

पूर्व सांसद और अधिकारियों में हुई नोंकझोंक

अंबारी। पूर्व सांसद रमाकांत यादव के नेतृत्व में मंगलवार को अंबारी बाजार से ट्रैक्टर रैली निकाली गई। इस दौरान रमाकांत यादव स्वयं ट्रैक्टर चला रहे थे। रैली अंबारी चौक पर पहुंची तो वहां फोर्स के साथ मौजूद एसडीएम फूलपुर ने रोक लिया। इस दौरान पूर्व सांसद व एसडीएम के बीच जमकर नोंकझोंक हुई। सपाई प्रशासन की सख्ती की परवाह किए बगैर ही काफिले को आगे बढ़ाया। उधर पुलिस इन्हें काबू में करने के लिए बीच सड़क में ट्रक खड़ा करवा दिया। जिससे माहुल रोड, फूलपुर, शाहगंज और दीदारगंज मार्ग जाम हो गया। कोतवाल फूलपुर रत्नेश कुमार सिंह , थानाध्यक्ष अयोध्या प्रसाद तिवारी , पुलिस चौकी प्रभारी राजेन्द्र प्रताप सिंह एवं कई थानों की फोर्स के साथ मौजूद रहे।

पूर्व विधायक और अधिकारियों में हुई नोकझोंक

फूलपुर। मंगलवार को फूलपुर पवई विधानसभा के पूर्व विधायक श्यामबहादुर सिंह यादव के नेतृत्व में सपाइयों ने ट्रैक्टर रैली निकाली। रैली जैसे ही फूलपुर रोडवेज के पास पहुंची, वहां मौजूद एसडीएम फूलपुर रावेंद्र सिंह, सीओ जितेंद्र कुमार भारी फोर्स के साथ रैली को रोक दिया। इस दौरान अधिकारियों और पूर्व विधायक के बीच जमकर नोक-झोंक हुई। सपाई अधिकारियों की सख्ती के बावजूद रैली को आगे बढ़ाया। ऐसे में पुलिस सख्ती दिखाते हुए पूर्व विधायक को हिरासत में ले लिया। ऐसे में समर्थक आपा खो बैठे। हालांकि श्यामबहादुर के समझाने पर सभी शांत हो गए। इस दौरान आजमगढ़-लखनऊ प्रमुख मार्ग काफी देर तक जाम रहा। वाहन चालकों को काफी परेशानी हुई। रैली का संचालन विधानसभा अध्यक्ष नसीम अहमद आज़मी ने किया। इस मौके पर सुरेंद्र बहादुर सिंह यादव, अमर बहादुर, कैलाश, यादव, ओंकार यादव आदि मौजूद रहे।

विधायक समेत 12 लोग लिए गए हिरासत में

मेंहनगर। मेंहनगर के सपा विधायक कल्पनाथ पासवान के नेतृत्व में गंजोर में स्थित उनके विद्यालय से ट्रैक्टर रैली निकाले जाने की सूचना पर एसओ मेंहनगर को हुई कि वे फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने विधायक सहित 12 लोगों को हिरासत में लेकर थाने भेजवा दिया। साथ ही मौके से 20 ट्रैक्टर को अपने कब्जे में ले लिया। बाद में सभी को निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया। इस मौके पर शिक्षक एमएलसी लालबिहारी यादव, हंसराज यादव, वीरेंद्र यादव, आशीर्वाद यादव, शिचंद यादव, संतोष कुमार आदि मौजूद रहे।

रैली रोकवाने में कामयाब रही पुलिस

लाटघाट। लाटघाट स्थित महादेवा मोड़ पर मंगलवार की सुबह सपाई ट्रैक्टर रैली निकालने की तैयारी कर रहे थे। इसकी जानकारी होने पर कोतवाल जीयनपुर नंद कुमार तिवारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस नेताओं से संपर्क करके रैली को रोकवाने में सफल रही। रैली रुक जाने पर सभी लोग लाटघाट पुलिस चौकी पहुचे। जहां पुलिसवालों ने सपा नेताओं को चाय पिलाकर घर भेज दिया। इस दौरान रामाश्रय राय, परशुराम यादव, नारद सिंह पटेल, अवधेश पटेल, शंकर यादव आदि मौजूद रहे।

11 लोग गिरफ्तार, निजी मुचलके पर छोड़े गए

महराजगंज। सपा एमएलसी राकेश कुमार यादव उर्फ गुड्डू के नेतृत्व में मंगलवार को महेशपुर गांव में स्थित एक कालेज में सपा कार्यकर्ता इकट्ठा हुए। इस दौरान सभी रैली निकालने की तैयारी करते हुए सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए रैली जैसे ही आगे बढ़ी कि महराजगंज थाना प्रभारी फोर्स के साथ पहुंचे और रैली को रोकवा दिया। 11 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर थाने चली गई। सभी को बाद में निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

चार ट्रैक्टर पुलिस के कब्जे में

रानी की सराय। समाजवादी पार्टी के किसान रैली के दौरान जैसे ही सपा नेताओं ने रैली निकाला। तभी सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देख अन्य लोग चले गए। जबकि चार ट्रैक्टर मौके पर लावारिस हाल में मिला। जिसे पुलिस कब्जे में लेकर थाने चली गई। सभी ट्रैक्टर पुलिस के कब्जे में है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:SP takes out tractor rally case on 27 named and 250 unknown