ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश आजमगढ़जनपद में बढ़ेगा देशी गाय के दूध का उत्पादन

जनपद में बढ़ेगा देशी गाय के दूध का उत्पादन

जनपद में देशी गाय के दूध का उत्पादन बढ़ेगा। पशु पालकों को दुधारू नस्ल की देशी गाय को खरीदने के लिए अनुदान मिलेगा। पशु पालक दूसरे प्रदेश से स्वदेशी...

जनपद में बढ़ेगा देशी गाय के दूध का उत्पादन
हिन्दुस्तान टीम,आजमगढ़Wed, 21 Feb 2024 10:15 PM
ऐप पर पढ़ें

आजमगढ़, संवाददाता।
जनपद में देशी गाय के दूध का उत्पादन बढ़ेगा। पशु पालकों को दुधारू नस्ल की देशी गाय को खरीदने के लिए अनुदान मिलेगा। पशु पालक दूसरे प्रदेश से स्वदेशी उन्नत प्रजाति की गाय की खरीद करेंगे। दुग्ध विभाग की आरे से दो गायों पर 80 हजार रुपये का अनुदान दिया जाएगा।

जनपद में गौ सर्वधन योजना के अंतर्गत गो पालको को प्रोत्साहन मिलेगा। जिससे की लोग देशी गाय को पाल कर दूध का उत्पादन कर सके। जनपद में बड़े पशुशालाओ के लिए योजनाए पहले से चल रही है। इस योजना से छोटे पशु पालको का लाभ मिलेगा। लोग अच्छी नस्ल की देशी गाय को पालेंगे। ग्रामीण क्षेत्र में लोग देशी गाय पालना शुरू कर दिये हैं। विदेशी नस्ल की गायों को लोग अधिक पाल रह हैं। जनपद के 70 गो पालको को इस योजना का लाभ मिलेगा। जिसमें महिलाओ को वरीयता दी जाएगी। 35 महिलाओं को इस योजना में शामिल किया गया है। गौ पालक को जनपद के बाहर से गायों को खरीद कर लाना है। तीन प्रजाति की गाय गिर, साहिवाल व थारपारकर नस्ल की गाय की खरीद पर ही योजना का लाभ मिलेगा। अनुदान डीबीटी के माध्यम से पशुपालकों के खाते में सीधा जाएगी। इसके लिए पशुपाल को आवश्यक कागजात जमा करने होंगे। मेला से गाय खरीदने पर रवन्ना, ट्रांजिट बीमा, ट्रांसपोर्ट रसीद, बीमा आदि का कागजात उपलब्ध कराना होगा। घर पर पशु पहंुचने पर उसका बीमा कराना होगा।

पशु सेड, चीपकटर की करनी होगी व्यवस्था

गौ पालक को दो-दो लाख रुपये से पशु को खरीदने के साथ ही पशु सेड को भी तैयार करना होगा। इसके साथ ही चारा काटने के लिए चीफ कटर की भी व्यवस्था करनी होगी। अनुदान लेने के लिए आवश्यक कागजात के साथ दुग्ध विकास विभाग से संपर्क करना होगा।

देशी नस्ल की गायों पर ही मिलेगा अनुदान

गौ सर्वधन योजना के अंतर्गत देशी गाय की खरीद पर ही अनुदान मिलेगा। एक गाय पर 40 हजार रुपये अनुदान दिया जाना है। एक गो पालक अधिकतम दो गाय पर ही इस योजना का लाभ ले सकेगा। गोपालक को गिर, साहिवाल व थारपारकर गाय की खरीद करनी होगी।

‘गौ संवर्धन योजना के अंतर्गत जनपद के 70 गोपालको को अनुदान दिया जाएगा। महिला गो पालकों को वरीयता दी जाएगी। गायों को प्रदेश से बाहर से खरीद करनी होगी। प्रक्रिया पूरी करने के बाद गौ पालक अनुदान के लिए आवेदन कर सकते हैं।

सुधाकर प्रसाद, जिला दुग्ध अधिकारी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें