DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खनन माफियाओं ने खान निरीक्षक सहित पुलिस पर बोला धावा

रौनापार थाने के घाघरा नदी पार बुधवार की रात लगभग साढ़े सात बजे अवैध खनन के दौरान पकड़े गए जेसीबी,ट्रैक्टर सहित मजदूरों को रौनापार थाने पर लाते समय खनन माफियाओं ने खान निरीक्षक सहित पुलिस फोर्स पर धावा बोल दिया। असलहों से लैस खनन माफियाओं ने फायरिंग कर जेसीबी,चार ट्रैक्टर और दर्जन भर से अधिक मजदूरों को छुड़ा ले गए और पुलिस फोर्स देखती रह गई। इस संबंध में देर रात में पुलिस ने गोरखपुर के एक ठेकेदार सहित पांच के खिलाफ नामजद और 15 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। 

रौनापार थाने के घाघरा नदी पार गोरखपुर जिले की सीमा पर मंझरिया भिक्षुक गैर आबादी गांव रौनापार थाने में पड़ता है। जबकि उसके बगल का गांव गोरखपुर जिले के गोलाघाट थाने में पड़ता है। बुधवार को मुखबिर से सूचना मिली कि मंझरिया भिक्षुक गांव में खनन माफिया अवैध रूप से बालू का खनन कर रहे हैं। एडीएम के आदेश पर रात लगभग साढ़े सात बजे खान निरीक्षक विनीत सिंह ने रौनापार थाने की पुलिस फोर्स के साथ मौके पर छापा मारा। इस दौरान एक जेसीबी, चार ट्रैक्टर सहित दर्जन भर मजदूरों को लेकर पुलिस रौनापार थाने पर आ रही थी। 

इस बीच रास्ते में गोरखपुर का एक ठेकेदार चार लग्जरी गाड़ियों के साथ घेर लिया। उसके साथियों ने पिस्टल से धमकी देते हुए जेसीबी,ट्रैक्टर सहित मजदूरों को छोड़ने की धमकी दी। न छोड़ने पर फायरिंग कर पुलिस के कब्जे में लिये गए जेसीबी,चार टैक्टर और अपने आदमियों को छुड़ा कर लेकर चले गए। 

रौनापार थाना प्रभारी संदीप यादव ने बताया कि  गोरखपुर के एक ठेकेदार सहित पांच खनन माफियाओं के खिलाफ नामजद और 15 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तलाश की जा रही है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mining mafia attack on police including mine inspector