DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  आजमगढ़  ›  हाल-ए-गांव : जगदीशपुर में खांसी, बुखार से पीड़ित 20 लोगों की मौत
आजमगढ़

हाल-ए-गांव : जगदीशपुर में खांसी, बुखार से पीड़ित 20 लोगों की मौत

हिन्दुस्तान टीम,आजमगढ़Published By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 03:14 AM
हाल-ए-गांव :  जगदीशपुर में खांसी, बुखार से पीड़ित 20 लोगों की मौत

फूलपुर। हिन्दुस्तान संवाद

नगर पंचायत फूलपुर से सटा हुआ जगदीशपुर गांव कोरोना काल में उपेक्षित पड़ा है। गांव में बुखार, खांसी, सर्दी से 25 दिन के भीतर 20 लोगों की मौत हो गई। बावजूद इसके गांव में दवा आदि का छिड़काव नहीं हुआ, ना ही अभी तक गांव में स्वास्थ विभाग की टीम पहुंची है। सांस लेने की दिक्कत सहित अन्य तरह की बीमारी से पीड़ित हैं गांव के लोग। कम समय में इतने लोगों की मौत से हर कोई भयभीत है।

मिर्जापुर ब्लाक का जगदीशपुर गांव नगर पंचायत फूलपुर से सटा हुआ है। यह गांव सीएचसी फूलपुर से महज तीन किलोमीटर की दूरी पर है। जबकि पीएचसी मिर्जापुर से दस किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। गांव के ज्यादातर लोग अपना इलाज सीएचसी फूलपुर से ही करवाते हैं। गांव में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव खत्म होने के बाद से अब तक महज 25 दिन के भीतर 20 लोगों की मौत हो गई है। ऐसे में गांव में भय और दहशत का माहौल है। गांव वालों के मुताबिक मरने वालों में ज्यादातर अधेड़ और बुजुर्ग शामिल हैं। सर्दी, खांसी, बुखार से पीड़ित इन लोगों की मौत एक या दो दिन के अंतराल पर हुई है। गांव में ज्यादा भय उस समय फैल गया। जबकि तीन लोगों की मौत एक ही साथ हो गई।

गांव में नहीं पहुंची स्वास्थ विभाग की टीम

मिर्जापुर ब्लाक के जगदीशपुर गांव में महज 25 दिन के भीतर 20 लोगों की मौत हो जाने से ग्रामीणों में भले ही भय व्याप्त है, लेकिन गांव में अभी तक स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं पहुंची। ना ही गांव में साफ-सफाई ही की गई है। गांव में अभी भी जगह-जगह गंदगी का अंबार लगा हुआ है। गांव में सफाईकर्मी तैनात तो किया गया है, लेकिन वह कभी ड्यूटी करने नहीं आता।

कोट

जल्द ही शपथ ग्रहण होने वाला है। शपथ ग्रहण के बाद गांव के विकास कार्यों की रुपरेखा तैयार की जाएगी। गांव में सेनिटाइज करवा दिया गया है। मच्छरों के प्रकोप से बचाने के लिए अभी तक दवा का छिड़काव नहीं हुआ है। जिसे बाद में करवाया जाएगा। - नीशा यादव पत्नी बृजभान, ग्राम प्रधान, जगदीशपुर

संबंधित खबरें