DA Image
23 जनवरी, 2020|2:33|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘कोर्ट का निर्णय पेंशनभोगी कर्मियों के लिए संजीवनी’

कोर्ट का निर्णय पेंशनभोगी कर्मियों के लिए संजीवनी

द सहकारी चीनी मिल सठियांव के पेंशनभोगी कर्मचारियों की बैठक शनिवार को अंबेडकर पार्क में हुई। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट के चार अक्तूबर 2016 के निर्णय पर विचार-विमर्श किया गया। साथ ही इसके लिए आगे की रणनीति बनाई गयी। 

चीनी मिल मजदूर संघ के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का यह निर्णय अल्प पेंशनभोगी कर्मचारियों के लिए संजीवनी है। इस निर्णय से अल्पपेंशन भोगी कर्मचारी काफी उत्साहित है। आज के परिवेश में सुप्रीम कोर्ट का यह निर्णय कर्मचारियों के लिए एक सुखद संदेश है। इसके लिए सभी कर्मचारियों को आवश्यकतानुसार अगली रणनीति के लिए तैयार रहने की जरूरत है।

कर्मचारी संघ के मीडिया प्रभारी लल्लन तिवारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय से लगभग दो दर्जन से ज्यादा विभाग के कर्मचारी प्रभावित है। इसमें चीनी मिल कर्मचारियों की भूमिका अग्रणी होनी चाहिए। चीनी मिल कर्मचारियों के संघर्षो का एक इतिहास रहा है। उसे कायम रखने की आवश्यकता है। अध्यक्षता राजेन्द्र सिंह व संचालन प्रेमप्रकाश पांडेय ने किया। इस मौके पर सुरजू सिंह, रामअवध प्रसाद, शेषनाथ राय, श्यामनरायन सिंह, देवेंद्र सिंह, केवल राम, बेचई यादव, मुसाफिर राम, रमाशंकर सिंह, चंद्रभान यादव, सूर्यदेव मौर्य, अशोक श्रीवास्तव, जयप्रकाश, सूर्यनाथ मिश्रा, उदयप्रताप सिंह, सल्टू राम, जगदीश सिंह, राजविजय, गयानाथ सिंह, पतिराज यादव आदि मौजूद रहे।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Court decision sanjivani for pensioners