DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शराब की दुकान को लेकर भाइयों में मारपीट, तीन घायल

रौनापार थाने के काखभार गांव में गुरुवार को सुबह शराब की दुकान को लेकर दो सगे भाइयों में मारपीट में तीन लोग घायल हो गए। दुकान का विरोध कर रहे एक भाई की हालत गंभीर होने पर मौका मिलते ही ग्रामीण भी सामने आ गए और घायल को चारपाई पर लिटा कर चक्का जाम कर दिया। ग्रामीण दलित बस्ती से शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। जाम की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने फोर्स ने समझा कर किसी तरह जाम समाप्त कराया और गंभीर रूप से घायल को जिला अस्पताल भर्ती कराया। 

रौनापार थाने के काखभार दलित बस्ती निवासी राजकुमार को इंदिरा आवास मिला है। उसने आवास में देशी शराब की दुकान खुलवा दिया है। बगल में ही रह रहे बड़ा भाई राजाराम का परिवार दुकान खुलने के बाद से ही विरोध करता चला आ रहा है। इसके अलावा ग्रामीण भी विरोध करते आ रहे हैं। गुरुवार को सुबह लगभग साढ़े आठ बजे शराब की दुकान को हटाने को लेकर दोनों सगे भाई राजकुमार और राजाराम के परिवार में भिड़त हो हो गई। एक-दूसरे पर लाठी-डंडे से हमला कर दिया। हमले में दुकान का विरोध कर रहा 40 वर्षीय भाई राजाराम पुत्र मिट्ठू गंभीर रूप से घायल हो गया। छोटा भाई राजकुमार और उसकी पत्नी विमला देवी भी घायल हो गई। इस बीच गंभीर रूप से घायल राजाराम को चारपाई पर लिटा कर ग्रामीण सड़क पर ले गए और बाजार में चक्का जाम कर दिया। दुकान हटाने की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए बीच सड़क पर धरने पर बैठ गए।

इस दौरान आजमगढ़-गोरखपुर मार्ग जाम हो गया। जाम की सूचना मिलने पर रौनापार थाने की पुलिस फोर्स पहुंच गई। पुलिस फोर्स के पहुंचने पर ग्रामीण बस्ती से शराब की दुकान की मांग पर अड़ गए। जाम करने वालों में महिला ,पुरुषों और बच्चे लाठी डंडे लिये हुए थे । रौनापार थाना प्रभारी संदीप यादव ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर आधे घंटे बाद जाम समाप्त कराया। 108 नंबर एंबुलेंस बुलाकर घायल गंभीर रूप से घायल राजकुमार को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा। जाम हटने के बाद घटना का जायजा लेने सीओ सगड़ी सुधाकर सिंह भी पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों को उनकी मांग पूरी करने का आश्वासन दिया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Brothers assault three injured in liquor shops