DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घायल को चारपाई पर लिटा हाइवे पर लगाया जाम

घायल को चारपाई पर लिटा हाइवे पर लगाया जाम

हफ्ते भर पूर्व दरोगा की पिटाई से अधमरा हुए अधेड़ को सैफई से जवाब होने के बाद आक्रोशित लोहापीटा समुदाय के लोगों ने घायल को चारपाई पर लिटा कर उमरैन-मैनपुरी हाइवे पर जाम लगा दिया।

समुदाय के लोगों का कहना है कि अधेड़ के हालत का जिम्मेदार उमरैन दरोगा है। उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर वह लोग अड़े रहे। सूचना पर पहुंचे थानेदार ने समझा-बुझाकर लोगों को शांत कराया।

एरवाकटरा थाना क्षेत्र के ऊमरैन निवासी लोहापीटा समुदाय का लाखनसिंह विगत 19 जुलाई को दो भैंस खरीद कर लाया था। चौकी इंचार्ज उमरैन ने उस पर भैंसे चोरी का आरोप लगाकर उसे चौकी में बंद कर दिया। विरोध करने पर उसे पीटकर अधमरा कर दिया। घायल अधेड़ को तीन दिन तक दरोगा चौकी में ही बैठाए रहा। और उसे छोड़ने के नाम पर पैसों की मांग की। लेकिन पैंतीस हजार रुपए देने में असमर्थ लोहापीटा समाज के लोगों ने समाज के लोगों से मदद मांगी। तब अछल्दा, एरवाकटरा आदि जगहों से जुटे समाज के लोगों ने पैसे देकर उसे छुड़ाए। तीन दिन बात उसकी हालत बिगड़ चुकी थी। परिजन उसे आगरा ले गए।

वहां डॉक्टरों ने उसे सरकारी अस्पताल ले जाने की सलाह देकर रेफर कर दिया। परिजनों ने उसे सैफई में भर्ती कराया। मगर उसकी हालत देखकर डॉक्टरों ने घर ले जाने को कहा। सैफई से लाने के बाद परिजन आक्रोशित हो गए। इस पर दरोगा परिजनों को चौकी में ले जाकर बंद कर दिया। और समझौते का दबाव बनाया। जानकारी होने पर अगले दिन समाज के काफी लोग जमा हो गए। और रविवार को उमरैन-मैनपुरी हाइवे पर लोहापीटा समाज के लोगों ने घायल को चारपाई पर लिटा कर जाम लगा दिया। वह लोग आरोपी दरोगा पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। सूचना पर पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे सीओ, थानेदार ने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। सीओ का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। यदि दरोगा दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The injured jammed on the stove on the Lita highway