DA Image
28 जनवरी, 2021|9:44|IST

अगली स्टोरी

मंदिरों पर माथा टेक की नए साल की शुरूआत

मंदिरों पर माथा टेक की नए साल की शुरूआत

औरैया। हिन्दुस्तान संवाद

नव वर्ष लोगों के जीवन में खुशियां लेकर आए और उन्हें हर मुसीबतों से बचाए। इसके लिए लोग नए वर्ष पर सबसे पहले मंदिरों में माथा टेकने पहुंचे। मंदिर पहुंचने वाले में युवा वर्ग अधिक दिखा। मंदिरों पर ईश्वर से नए वर्ष में खुशियां देने की कामना की। कोई देवी मंदिर गया तो कोई साईं मंदिर हर जगह दर्शन करने वालों का तांता लगा रहा। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने भी अल्लाह से नया वर्ष खुशियों से भरने की दुआ मांगी।

नव वर्ष के आगमन पर बीहड़ स्थित मां मंगला काली मंदिर, देवकली मंदिर पर सुबह से ही लोगों का आना-जाना शुरू हो गया। कुछ श्रद्धालु मंदिरों पर अकेले पहुंचे। जबकि कुछ लोग पूरे परिवार के साथ भगवान के दर्शन करने पहुंचे। शहर के बड़ी माता मंदिर, काली माता मंदिर, फूलमती मंदिर, संकट मोचन मंदिर पर श्रद्धालुओं का आना-जाना रहा। देवी मंदिरों पर जहां श्रद्धालु मिठाई का भोग लगा रहे थे वहीं बजरंगबली को बूंदी के लड्डू चढ़ा रहे थे। भगवान से कोरोना महामारी से बचाने की प्रार्थना भी कर रहे थे। ईश्वर से प्रार्थना की कि वर्ष 2021 में कोरोना महामारी पूरी तरह से समाप्त हो जाए। जिससे बड़ा संकट टल जाए। मुस्लिम भाइयों ने भी अल्लाह से नव वर्ष खुशियों से भरने की दुआ मांगी।

युवाओं ने मनाया नववर्ष का जश्न

औरैया। नववर्ष के आगमन को लेकर युवा वर्ग काफी उत्साहित रहा। 31 दिसंबर की रात 12 बजते ही युवाओं ने नए वर्ष का जश्न शुरू कर दिया। आतिशबाजी से आसमान भी रंगी रोशनी बिखेर रहा था। इस बार पुलिस की सख्ती के चलते सार्वजनिक स्थानों पर नव वर्ष के कार्यक्रम आयोजित नहीं हो सके। घरों में युवाओं ने छोटे स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किए और केक काटकर नए वर्ष का जश्न मनाया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Matha Tech 39 s new year begins on temples