Kiga scouts on illegal collection colleges - अवैध वसूली करने वाले कॉलेजों पर कसेगा शिकंजा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध वसूली करने वाले कॉलेजों पर कसेगा शिकंजा

अवैध वसूली करने वालों पर विभाग की पैनी नजर रहेगी। शिकायत मिलने पर संबंधित कॉलेज के प्रधानाचार्य के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। डीआईओएस ने अंक पत्र व टीसी देने के नाम पर छात्रों को परेशान न करने के निर्देश दिए हैं।

यूपी बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद कॉलेजों में उगाही का खेल भी शुरू हो जाता है। मगर इस बार अवैध वसूली करने वाले कॉलेजों पर विभाग ने शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। डीआईओएस चंद्र प्रताप सिंह ने सभी प्रधानाचार्यों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी छात्र को अंक पत्र और टीसी देने के नाम पर वेबजह परेशान न किया जाए और अनाधिकृत रूप से वसूली का दबाव भी न बनाया जाए। साथ प्रवेश शुल्क को लेकर भी शासन के निर्देशों का पालन किया जाए। बीते साल कुछ कॉलेजों में ज्यादा शुल्क वसूलने की शिकायत आई थी। शहर के एक कॉलेज में मनमाने तरीके से प्रवेश फार्म बेचने का मामला भी चर्चा में आया था। इन सब पहलुओं को देखते हुए इस बार डीआईओएस ने पहले ही सक्रियता दिखाई है। डीआईओएस ने अभिभावकों से कहा कि अगर किसी कॉलेज में अंक पत्र या टीसी देने के नाम पर अवैध वसूली का दबाव बनाया जाए तो तत्काल लिखित रूप से उनके कार्यालय में शिकायत की जाए। जिससे विभागीय निर्देश का पालन न करने वाले कॉलेजों पर शिकंजा कसा जा सके। जिले के सभी 15 राजकीय और 60 अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक कॉलेजों में निर्धारित शुल्क ही वसूल किया जाए। अगर कोई प्रधानाचार्य ज्यादा शुल्क वसूलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। राजकीय और अशासकीय सहायता प्राप्त कॉलेजों में ज्यादा से ज्यादा संख्या में छात्रों का दाखिला कराने के लिए प्रधानाचार्य व कालेज स्टाफ के स्तर से पहल भी की जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kiga scouts on illegal collection colleges