DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेतन न मिलने से खफा लेखपालों ने दिया धरना

वेतन न मिलने से खफा लेखपालों ने दिया धरना

तीन माह से वेतन न मिलने से खफा लेखपाल सोमवार को कार्य बहिष्कार कर धरना दिया। इस दौरान लेखपालों ने अपनी व्यथा अफसरों को सुनाई। साथ ही जल्द वेतन भुगतान कराए जाने की मांग की।

तहसील क्षेत्र में कार्यरत लेखपालों को बीते फरवरी, मार्च और अप्रैल माह का वेतन अभी तक नही मिला है। मानदेय न मिलने से लेखपालों पर आर्थिक संकट छा गया है। अप्रैल माह में बच्चों के एडमिशन आदि के काम अधर में लटके हुए हैं। वेतन न आने की शिकायत कई बार लेखपालों ने उच्च अधिकारियों को मौखिक रूप से अवगत भी कराया था। और उन्होंने जल्द वेतन आने का भरोसा भी दिलाया था। परंतु जब वेतन नही आया तो सोमवार से लेखपालों ने काम का बहिष्कार कर दिया और तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन पर बैठ गए। लेखपालो के काम बहिष्कार करने से ग्रामीण क्षेत्र से आए लोगों को परेशानी हुई। शाम तक समस्या हल होने का बैठकर वह इंतजार करते रहे। जब उनकी समस्या का हल नही हुआ तो वह मायूस होकर वापस लौट गए। लेखपाल संघ के तहसील अध्यक्ष योगेश कुमार और मंत्री नितेश बाबू ने संयुक्त रूप से बताया कि वेतन न मिलने तक कार्य बहिष्कार जारी रहेगा। इस मौके पर अचिन्त मिश्रा, मोहित श्रीवास्तव, राज कमल दुबे, अमित तिवारी, प्रिया भदौरिया, अरविंद कुमार, धर्मवीर सिंह, स्वदेश श्रीवास्तव, राज बहादुर, शिवम बाबू, राम कुमार, अंकित, राम चन्द्र, विमलेंद्र कुमार, शिव प्रताप, जसवंत सिंह, तरुनराज, प्रियंका राठौर, आकांक्षा आदि लेखपाल मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Khaaa leaves