DA Image
26 नवंबर, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

बारिश न होने से किसानों की चिंताएं और बढ़ी

बारिश न होने से किसानों की चिंताएं और बढ़ी

बारिश न होने के कारण क्षेत्र में सिंचाई का संकट गहराने लगा है। किसानों की चिंताएं बढ़ती जा रही हैं। धान और गन्ने की फसल में सिंचाई की जरूरत है। लेकिन आसमान में उमड़ रहे बादल बिन बरसे लौट रहे हैं। उमस भरी गर्मी ने आबादी का पसीना निकाल दिया है। पिछले एक सप्ताह से अच्छी बारिश न होने के कारण उमस भरी गर्मी से लोग परेशान हो उठे हैं। बुधवार को भी गर्मी से राहत नहीं मिली । सुबह से ही तेज धूप खिली हुई है। तेज धूप के चलते गर्मी के तेवर और तल्ख हो गए हैं। आसमान में उमड़ रहे बादल बिन बरसे लौट रहे हैं। बारिश न होने के कारण जिले में सिंचाई का संकट गहराने लगा है। इस समय धान और गन्ने की फसल में सिंचाई की सख्त जरूरत है। लेकिन बारिश न होने के कारण किसानों की चिंता और बढ़ गई है। यदि अब बारिश नहीं होती है तो फसलों की पैदावार पर असर पड़ेगा। उत्पादन में भारी गिरावट आ सकती है। जिला कृषि अधिकारी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि मौसम विभाग ने बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है। एक दो दिन के अंदर जिले में अच्छी बारिश होने वाली है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Worries of farmers increased due to lack of rain