अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शांति व्यवस्था में पलीता लगाया तो जाएंगे जेल


शांति व्यवस्था में पलीता लगाया तो जाएंगे जेल

1 / 2मोहर्रम व त्योहारों पर शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए ग्रामीण व नगरीय क्षेत्र के समाज सेवी व सम्मानित व्यक्तियों की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। सभी बिंदुओं पर चर्चा की गई। शांति...


शांति व्यवस्था में पलीता लगाया तो जाएंगे जेल

2 / 2मोहर्रम व त्योहारों पर शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए ग्रामीण व नगरीय क्षेत्र के समाज सेवी व सम्मानित व्यक्तियों की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। सभी बिंदुओं पर चर्चा की गई। शांति...

PreviousNext

मोहर्रम व त्योहारों पर शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए ग्रामीण व नगरीय क्षेत्र के समाज सेवी व सम्मानित व्यक्तियों की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। सभी बिंदुओं पर चर्चा की गई। शांति व्यवस्था में पलीता लगाने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। सीधे जेल भेजा जाएगा। असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रहेगी। जिलेभर में सुरक्षा व्यवस्था चाकचौबंद रहेगी। सुरक्षा को लेकर सभी थाना अध्यक्षों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। डीएम हेमंत कुमार ने कहा कि मोहर्रम में सभी लोग आपसी भाई-चारा व तालमेल बनाकर रखें, कोई नई परम्परा न प्रारंभ की जाए। सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे। बैठक के दौरान समाज समाज सेवियों ने मुहर्रम को लेकर आ रही समस्याओं के संबंध में प्रशासन को अवगत कराया। ट्रैफिक कंट्रोल, प्रकाश की व्यवस्था, जल आपूर्ति आदि समस्याओं से अवगत कराया। डीएम ने समस्याओं को सुनकर उनका त्वरित निस्तारण करने का आश्वासन दिया। डीएम ने सभी ईओ को निर्देश दिए हैं कि धार्मिक स्थल और सार्वजनिक स्थलों पर विशेष सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। मोहर्रम पर लगातार पेयजल आपूर्ति व्यवस्था, सफाई व्यवस्था कराने के पुख्ता इंतजाम हों। डीएम ने डीपीआरओ को निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई के लिये टीमों का गठन किया जाए। नालियों में चूना का छिड़काव किया जाए।डीएम ने कहा कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी पर्याप्त एंबुलेंस की व्यवस्था कर लें। डॉक्टर तैनात रहे। उन्होंने ईओ को निर्देश दिए कि आवारा पशुओं पर रोक लगा दिया जाए। मोहर्रम का पर्व शांतिपूर्वक संपन्न कराया जाए। जिलेभर में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम रहेंगे।पुलिस अधीक्षक ने सभी थानाध्यक्षों को त्योहार और मोहर्रम के चलते अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाए। शांति भंग का प्रयास करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, सीधे जेल भेजा जाएगा। बैठक में सीडीओ, एडीएम, एसडीएम, सीएमओ, ईओ, सहित भारी संख्या में समाज सेवी आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Will go to jail for breach of the peace people on festivals