DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अमरोहा  ›  सकीना की उम्मीदवारी से अमरोहा में रोचक हुआ जिला पंचायत अध्यक्ष पद का मुकाबला

अमरोहासकीना की उम्मीदवारी से अमरोहा में रोचक हुआ जिला पंचायत अध्यक्ष पद का मुकाबला

हिन्दुस्तान टीम,अमरोहाPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 12:10 PM
सकीना की उम्मीदवारी से अमरोहा में रोचक हुआ जिला पंचायत अध्यक्ष पद का मुकाबला

अमरोहा। संवाददाता

अमरोहा में जिपं अध्यक्ष पद का चुनावी मुकाबला सपा से सकीना बेगम को उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद रोचक हो गया है। लगातार चार बार से जिपं सदस्य चुनी जाने वाली सकीना एक बार अध्यक्ष पद की ताजपोशी भी संभाल चुकी हैं। इसके साथ ही उनके पति महबूब अली लगातार पांचवी बार विधायक चुने गए हैं। बेटे परवेज महबूब अली भी विधान परिषद सदस्य हैं।

सोमवार को सपा जिलाध्यक्ष निर्मोज यादव ने पार्टी नेतृत्व के निर्देश के बाद सकीना बेगम को जिपं अध्यक्ष पद के लिए पार्टी प्रत्याशी बनाए जाने की घोषणा की। इसके साथ ही राजनीतिक हलचल भी तेज हो गई। माना जा रहा है कि सकीना बेगम को प्रत्याशी बनाए जाने के बाद चुनावी मुकाबला अब बेहद दिलचस्प होगा। पार्टी संगठन के साथ ही पारिवारिक राजनीतिक कुनबा उनकी जीत को सुनिश्चित करने की कवायद में जुट गया है। गौरतलब है कि लगातार चार बार से जिपं सदस्य चुनी जाने वाली सकीना बेगम पूर्व में एक बार जिपं अध्यक्ष भी रह चुकी हैं। इसके अलावा उनके पति व पूर्व कैबिनेट मंत्री महबूब अली लगातार पांचवीं बार विधायक चुने गए हैं। बेटे परवेज महबूब अली भी एमएलसी है। ऐसे में विरोधियों को उन्हें मात देने में पसीना निकल सकता है। गौरतलब है कि अभी तक सिर्फ भाजपा जिलाध्यक्ष डा.ऋषिपाल नागर ने ही पूर्व सांसद कंवर सिंह तंवर के बेटे ललित तंवर को पार्टी की ओर से जिपं अध्यक्ष पद के लिए भाजपा प्रत्याशी घोषित किए जाने की बात कही है। हालांकि इस बावत अभी तक लिखित में कोई पुष्टि पार्टी संगठन की ओर से नहीं हुई है। वहीं बसपा ने भी अभी अपने प्रत्याशी का ऐलान नहीं किया है।

निर्दलीय और बसपा के अगले कदम पर सबकी निगाह

अमरोहा। जिपं अध्यक्ष के लिए जिले में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। कुल 27 सीट वाली जिपं के अध्यक्ष पद पर काबिज होने के लिए किसी भी दल को कम से कम 14 जिपं सदस्यों के समर्थन की जरूरत होगी। इसके उलट जहां सपा-बसपा को आठ सीट मिली हैं तो वहीं भाजपा छह व निर्दलीय प्रत्याशी पांच के आंकड़े पर सिमटे हैं। ऐसे में अब सबकी निगाह बसपा व निर्दलीय जिपं सदस्यों के अगले कदम की ओर टिकी हैं। कुल मिलाकर मौजूदा परिस्थिति में गठबंधन किस स्तर पर होगा, चुनावी मुकाबले के बीच ये देखना भी रोचक रहेगा।

जिले में ये है जिपं सदस्यों की स्थिति

कुल सीट 27

सपा 08

बसपा 08

भाजपा 06

निर्दलीय 05

संबंधित खबरें