DA Image
21 जनवरी, 2021|4:38|IST

अगली स्टोरी

फसल को चट कर रहे आवारा पशुओं को गोशाला भेजा जाए

फसल को चट कर रहे आवारा पशुओं को गोशाला भेजा जाए

हसनपुर। हिन्दुस्तान संवाद

आवारा पशुओं को पकड़कर गोशाला भेजा जाए। किसान आवारा पशुओं से परेशान हैं। कड़ाके की सर्दी में खेतों पर पशुओं से फसलों की रखवाली करनी पड़ रही है।

शुक्रवार को रहरा ब्लाक परिसर में आयोजित भारतीय किसान यूनियन भानु की बैठक में पदाधिकारियों ने उक्त मांग की। कहा कि क्षेत्र में सैकड़ों की संख्या में आवारा पशु घूम रहे हैं। पशुओं का झुंड किसानों की मेहनत से तैयार की गई गेहूं आदि फसलों को खा रहा है। किसान परेशान हैं। फसल रखवाली के लिए बहुत से किसानों ने खेतों पर मचान बना रखे हैं। कड़ाके की सर्दी में किसानों को खेतों पर रात भर जागना पड़ रहा है। बार-बार गुहार के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो रहा। जल्द पशुओं को पकड़कर गोशाला में बंद करने की गुहार लगाई। इस संबंध में एसडीएम को ज्ञापन भी भेजा गया। मांग करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानून किसानों के खिलाफ हैं। इन्हें तुरंत वापस लिया जाए। स्वामीनाथन की रिपोर्ट के आधार पर किसान आयोग का गठन किया जाए। सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम पर फसल उत्पाद खरीदने वालों के खिलाफ कड़ा कानून बनाया जाए। जो भी व्यापारी समर्थन मूल्य से कम पर खरीद करे, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। दो बच्चों का कानून लागू किया जाए। यूपी ग्रामीण प्रथमा बैंक की सीज लोन पावर को खोला जाए। कोरोना महामारी को देखते हुए बिजली बिल व समस्त कर्ज माफ किए जाएं। गन्ने का रेट 450 रुपये प्रति कुंतल घोषित किया जाए। ब्लॉक अध्यक्ष योगेंद्र कुमार, सुभाष त्यागी, बालकिशन सिंह, काले सिंह, कल्लू सिंह, शीशपाल सिंह, कमल सिंह, दिनेश राणा, वीर सिंह, सतपाल, सोहनलाल, चमन सिंह, सुरेश, मोमराज, शिवकुमार, नत्थू सिंह, ओम प्रकाश आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Stray animals chopping the crop should be sent to the cowshed