DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सतपाल का शव कोतवाली लेकर पहुंचे परिजन, हंगामा

सतपाल का शव कोतवाली लेकर पहुंचे परिजन, हंगामा

1 / 3कोतवाली क्षेत्र के गांव सतेड़ा निवासी सतपाल के शव को परिजन बुधवार दोपहर बाद कोतवाली लेकर पहुंच गए। पुलिस पर तहरीर में नामजद तीन आरोपियों की जगह सिर्फ एक के खिलाफ मुकदमा लिखने का आरोप लगाया। काफी देर...

सतपाल का शव कोतवाली लेकर पहुंचे परिजन, हंगामा

2 / 3कोतवाली क्षेत्र के गांव सतेड़ा निवासी सतपाल के शव को परिजन बुधवार दोपहर बाद कोतवाली लेकर पहुंच गए। पुलिस पर तहरीर में नामजद तीन आरोपियों की जगह सिर्फ एक के खिलाफ मुकदमा लिखने का आरोप लगाया। काफी देर...

सतपाल का शव कोतवाली लेकर पहुंचे परिजन, हंगामा

3 / 3कोतवाली क्षेत्र के गांव सतेड़ा निवासी सतपाल के शव को परिजन बुधवार दोपहर बाद कोतवाली लेकर पहुंच गए। पुलिस पर तहरीर में नामजद तीन आरोपियों की जगह सिर्फ एक के खिलाफ मुकदमा लिखने का आरोप लगाया। काफी देर...

PreviousNext

कोतवाली क्षेत्र के गांव सतेड़ा निवासी सतपाल के शव को परिजन बुधवार दोपहर बाद कोतवाली लेकर पहुंच गए। पुलिस पर तहरीर में नामजद तीन आरोपियों की जगह सिर्फ एक के खिलाफ मुकदमा लिखने का आरोप लगाया। काफी देर तक हंगामा किया। विवेचना में नाम बढ़ाने के आश्वासन पर परिजन शव को अंतिम संस्कार के लिए लेकर गए। रविवार रात गांव निवासी सतपाल व उसके भाई नन्हुआ के भूसा के बोंगों को आग लगा दी गई थी। देवीसहाय व उसके परिजनों पर आग लगाने का शक था। मंगलवार सुबह सतपाल बोंगा जलाने की शिकायत करने देवीसहाय के घर पहुंचा तो मारपीट हो गई। सतपाल व देवीसहाय घायल हो गए थे। जिला अस्पताल से मेरठ ले जाते वक्त मंगलवार शाम सतपाल की मौत हो गई। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। इस मामले में पुलिस ने देवीसहाय के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। बुधवार को पोस्टमार्टम के बाद करीब 30 वर्षीय सतपाल का शव गांव पहुंचा। परिजन शव को लेकर कोतवाली आ गए। आरोप लगाया कि देवीसहाय व उसके दो बेटों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को तहरीर दी गई थी जबकि पुलिस ने सिर्फ देवीसहाय पर मुकदमा लिखा है। दरोगा सदाकत अली ने आश्वासन दिया कि विवेचना में नाम बढ़ा दिए जाएंगे। इस दौरान मृतक सतपाल की पत्नी अपने पांचों बच्चों को लेकर कोतवाली पहुंची और विलाप करने लगी। करीब आधा घंटे तक कोतवाली में हंगामा हुआ। बाद में दरोगा के समझाने पर परिजन शव को अंतिम संस्कार के लिए ले गए। पुलिस ने आरोपी अरेस्ट कर जेल भेजाहसनपुर। पुलिस ने मुकदमे में नामजद देवीसहाय को अस्पताल से अरेस्ट कर लिया। बुधवार को उसे अदालत में पेश किया जहां से जेल भेज दिया गया। मारपीट में घायल देवीसहाय का अस्पताल में उपचार चल रहा था। कोतवाल संजय प्रताप सिंह ने बताया कि देवीसहाय काे अरेस्ट कर लिया गया है। घटना में जो भी लोग शामिल होंगे उनके नाम विवेचना में बढ़ा दिए जाएंगे। विधायक ने परिजनों को बंधाया ढांढसहसनपुर। विधायक महेंद्र सिंह खड़गवंशी बुधवार को सतेड़ा पहुंचे। मृतक सतपाल के परिजनों को ढांढस बंधाया। आश्वासन दिया कि हर संभव मदद की जाएगी। इस दौरान परिजनों ने पुलिस की शिकायत की। आरोप लगाया कि पुलिस को पिता-पुत्रों के खिलाफ तहरीर दी गई थी। पुलिस ने सिर्फ एक पर मुकदमा दर्ज किया है। विधायक ने आला अफसरों से फोन पर बात की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Satkhal s body was brought to Kotwali ruckus