DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिछले तिगरी मेले के 70 लाख रोके, आगामी को 40 लाख भेजे

पिछले तिगरी मेले के 70 लाख रोके, आगामी को 40 लाख भेजे

राजकीय घोषित हो चुके तिगरी मेले के लिए बड़ा झटका है। शासन ने बीत वर्ष में लगे गंगा तिगरी मेले पर खर्च हुए एक करोड़ रुपये में 30 लाख रुपये की एक किश्त भेजने के बाद बाकी बचे 70 लाख की धनराशि जारी करने से इंकार कर दिया है। वहीं आगामी मेले के लिए 40 लाख रुपये भेज दिए गए हैं। 2018 में मेले पर खर्च हुई धनराशि के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष सीएम योगी से मिलने जाएंगी।

सदियों से कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले तिगरी मेले को प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद 2017 में राजकीय घोषित किया गया। इसके अगले साल बाद 2018 में जिला पंचायत की देख रेख में मेला लगा। गंगा में डुबकी लगाने आए श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं मुहैया कराने पर एक करोड़ रुपये खर्च हुए। जिस पर शासन ने प्रथम किश्त के रूप में 30 लाख रुपये भेजे। जिला पंचायत पर सेनेट्री, टेंट, पेयजल, प्रकाश का इंतजाम करने वाले ठेकेदारों का 70 लाख रुपये बकाया है। जिला पंचायत को उम्मीद थी कि शासन से 70 लाख रुपये मिल जाने के बाद सबका भुगतान कर दिया जाएगा। मगर शासन ने जिला पंचायत को बड़ा झटका दिया है। बीते वर्ष के मेले के लिए धनराशि भेजने से इंकार कर दिया, जबकि आगामी वर्ष (2019) में लगने वाले मेले के लिए 40 लाख रुपये जारी किए हैं। अपर मुख्य अधिकारी हरमीक सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि उन्होंने 2019 के लिए आई धनराशि बीते वर्ष आयोजित किए गए मेले पर खर्च हुई धनराशि का भुगतान करने को कहा था, लेकिन जिलाधिकारी ने साफ इंकार कर दिया है। कह दिया कि इसे आगामी मेले पर ही खर्च किया जाएगा। जिला पंचायत अध्यक्ष सरिता चौधरी ने बताया कि इस बाबत वह और हापुड़ जिला पंचायत अध्यक्ष मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलेंगे।

डीएम ने भी लिखा शासन को पत्र

राजकीय घोषित होने के बावजूद तिगरी मेले की बीते वर्ष की 70 लाख रुपये रोक दिए जाने और आगामी मेले के लिए 40 लाख की किश्त मिल जाने से जिला प्रशासन भी हैरत में है। जिलाधिकारी उमेश कुमार मिश्र ने प्रमुख सचिव नगर विकास को पत्र लिखा है। बीते वर्ष की धनराशि जारी कराने का अनुरोध किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prevent 70 million last Tigri fair send 40 million to upcomming fair