DA Image
20 जनवरी, 2021|8:58|IST

अगली स्टोरी

बरसात से फीकी हुई धान की रंगत, किसान परेशान

default image

-खड़ी फसल के गिरने से भी धान की गुणवत्ता हुई प्रभावित

हसनपुर। हिन्दुस्तान संवाद

मंगलवार को हुई बूंदाबांदी व बरसात से धान की फसल को बेहद नुकसान पहुंचा है। जो फसल खेत में कटी पड़ी थी उसमें पानी भरने से दाने की रंगत फीकी पड़ गई है। खड़ी फसल के गिरने से भी धान की गुणवत्ता प्रभावित हुई है।

किसानों का कहना है कि तैयार फसल पर कहीं बूंदाबांदी तो कहीं तेज हवा के चलते बड़ा नुकसान हुआ है। धान कटाई व झड़ाई भी प्रभावित हुई है। किसानों को आशंका है कि मंडी में धान का उचित मूल्य नहीं मिलेगा। मोटी भूमि वाले जिन खेतों में 24 घंटे से अधिक समय तक पानी भरा रहा है, उनमें धान का दाना काला पड़ने की आशंका है। हसनपुर क्षेत्र के गांव गलसुआ निवासी काश्तकार मासूम अली के मुताबिक मंगलवार की बरसात से धान की फसल को बहुत नुकसान हुआ है। धान की फसल खेत में कटी पड़ी थी। फसल में पानी भरने से बाली की रंगत फीकी पड़ गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Paddy color deteriorated due to rain farmers upset