DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मध्य प्रदेश पुलिस ने मुक्त कराए बंधुआ मजदूर

मध्य प्रदेश पुलिस ने क्षेत्र के गांवों में बंधक बनाए गए चार श्रमिकों को मुक्त कराया। डेयरी पर काम करने के बहाने लाए गए श्रमिकों से खेती कराई जा रही थी। एक को मुरादाबाद के छजलैट थाना क्षेत्र से मुक्त कराया। मध्य प्रदेश से सात श्रमिक गायब हुए। आरोप है कि उनको डेयरी पर मजदूरी दिलाने के नाम पर लाया गया। जब पता नहीं चला तो 17 अक्तूबर को उनके परिजनों ने बंधुआ बना कर रखने का अभियोग पंजीकृत कराया।

पुलिस को सूचना मिली कि तीन श्रमिक अमरोहा देहात थाना के हाशमपुर गांव में बंधक बनाए गए हैं। शनिवार को मध्य प्रदेश पुलिस देहात थाने पहुंची। पुलिस साथ लेकर हाशमपुर गांव से तीन श्रमिकों को बरामद कराया। एक को इसी थाना क्षेत्र के कुम्हरिया गांव से बरामद किया। वहीं दो श्रमिक छजलैट थाने के बैरमपुर गांव से बरामद किए। दो श्रमिकों की पुलिस को और तलाश है। लिखा पढ़ी के बाद मध्य प्रदेश पुलिस पांचों श्रमिकों को अपने साथ ले गई। सूत्रों के मुताबिक बरामद किए गए श्रमिकों में तीन नाबालिग बताए जा रहे हैं।

एसओ देहात राजीव कुमार शर्मा ने बताया कि मध्य प्रदेश पुलिस आई थी। श्रमिकों को अपने साथ ले गई है। श्रमिकों का आरोप था कि उनको डेयरी पर काम के बहाने लाया गया था, लेकिन खेतीबाड़ी का काम कराया जा रहा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Madhya Pradesh police released free bonded laborers